मां बनने के 2 साल बाद शतरंज की दुनिया में कदम रखने वाली भारतीय महिला खिलाड़ी कोनेरू हंपी ने पिछले दो महीनों में 2 खिताब जीतकर खूब वाहवाही बटोर रही हैं. पिछले साल दिसंबर में वर्ल्ड रैपिड चैंपियन बनने वाली हंपी ने रविवार रात हमवतन द्रोणावल्ली हरिका को केर्न्स कप शतरंज के 9वें और आखिरी दौर में ड्रॉ पर रोककर पिछले दो महीने में अपना दूसरा खिताब जीत लिया है. Also Read - मां बनने के 2 साल बाद भारतीय महिला शतरंज खिलाड़ी कोनेरू हंपी ने जीता वर्ल्ड रैपिड खिताब

टी20 वर्ल्ड कप से पहले महिला टीम की कप्तान हरमनप्रीत बोलीं-फोकस सिर्फ चैंपियन बनने पर

हंपी इस टूर्नामेंट में छह अंक के साथ तालिका में शीर्ष पर रहीं. इस कामयाबी में उन्हें पांच ईएलओ रेटिंग अंक मिलेंगे जिससे वह विश्व रैंकिंग में दूसरे पायदान पर पहुंच जाएंगी.

भारत-ऑस्ट्रेलिया के पास घर पर सबसे अच्छा गेंदबाजी अटैक है : स्टीव वॉ

32 साल की इस भारतीय खिलाड़ी को चैंपियन बनने के लिए आखिरी दौर में सिर्फ ड्रॉ की जरूरत थी. उन्हें रविवार रात को खेले गए मुकाबले में हरिका के खिलाफ ऐसा करने में कोई परेशानी नहीं हुई. इस जीत से हंपी को पुरस्कार राशि के तौर पर 45,000 डॉलर मिले. विश्व चैंपियन वेंजुन जू 5.5 अंक के साथ दूसरे पायदान पर रहीं. हरिका 4.5 अंक के साथ संयुक्त रूप से पांचवें स्थान पर रहीं.

‘मैं इतना चुनौतीपूर्ण टूर्नामेंट जीतकर बहुत खुश हूं’

भारतीय ग्रैंडमास्टर हंपी ने कहा, ‘मैं इतना चुनौतीपूर्ण टूर्नामेंट जीतकर बहुत खुश हूं. इससे मुझे यह भी एहसास होता है कि विश्व रैपिड खिताब जीतना मेरे लिए कोई तुक्का नहीं था.’