भारतीय क्रिकेट टीम के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव का कहना है कि केएल राहुल और रिषभ पंत विकेट के पीछे अच्छा काम कर रहे हैं, लेकिन टीम को अनुभवी महेंद्र सिह धोनी की कमी खल रही है. कुलदीप ने गुरुवार को टाइम्स ऑफ इंडिया स्पोटर्स अवाडर्स से इतर पत्रकारों से कहा, ‘ निश्चित रूप से, माही भाई (धोनी) अपने साथ काफी अनुभव लेकर आए हैं और उन्होंने भारतीय टीम को काफी कुछ दिया है. इसलिए जब उनके जैसे कोई खिलाड़ी नहीं खेलता है तो उनकी कमी खलती है. वे (पंत और राहुल) अच्छा कर रहे हैं. दोनों काफी अच्छा कर रहे हैं और उनमें ज्यादा असमानता नहीं है.’ Also Read - Virat-Rohit की गैर-मौजूदगी में श्रीलंका में कौन संभालेगा टीम की कमान ? BCCI के सामने हैं ये विकल्‍प

भारतीय टीम में वापसी के लिए IPL बेहद अहम : कुलदीप यादव Also Read - भारतीय टीम को बड़ी राहत, WTC फाइनल से पहले क्वारंटीन के दौरान प्रैक्टिस की इजाजत

कुलदीप और युजवेंद्र चहल भारत के दो कलाई के स्पिनर हैं. लेकिन रवींद्र जडेजा के सीमित ओवरों के क्रिकेट में लौटने के बाद से एक मैच में दोनों का एक साथ खेलना कम ही हुआ है. Also Read - WTC Final 2021: मोटापे के चलते Prithvi Shaw को नहीं मिली टेस्‍ट टीम में जगह, BCCI से मिला ये संदेश

कुलदीप ने कहा कि यह सब टीम प्रबंधन के ऊपर निर्भर है कि वे किस टीम संयोजन के साथ उतरना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘हमारी टीम काफी मजबूत है और हम बेहतरीन प्रदर्शन करने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे. जहां तक कलाई के स्पिनरों की बात है तो यह सब टीम प्रबंधन फैसला करता है. अगर वे दो खिलाड़ियों को खेलना चाहते हैं, जोकि अच्छी बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने की स्थिति में हो तो यह टीम के लिए हमेशा अच्छी बात होती है. इसलिए अगर हम एक साथ खेलते हैं तो यह अच्छा होगा.’

महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर बोलीं-मां ने आज तक मेरा कोई मैच नहीं देखा

कुलदीप ने आगे कहा, ‘यह सब टीम संयोजन के ऊपर निर्भर है. जडेजा एक बल्लेबाज, गेंदबाज और फील्डर के रूप में अच्छा कर रहे हैं. उनके होने से टीम संयोजन को मजबूती मिलती है. वह बल्लेबाजी में ज्यादा गहराई देते हैं. लेकिन जब भी मुझे और चहल को मौका मिलता है तो हम अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करते हैं.’