लगातार खराब फॉर्म से जूझ रहे भारतीय स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव (Kudeep Yadav) को इंग्लैंड के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज और न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मैच के लिए चुने गए भारतीय टेस्ट स्क्वाड में जगह नहीं मिली है। जिसे पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने चयनसमिति का कठोर फैसला बताया है। Also Read - ECB की रोटेशन पॉलिसी की वजह से अपनी सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग इलेवन नहीं खेल पा रहे हैं कप्तान जो रूट: कुक

ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में चोपड़ा ने कहा, “निजी तौर पर कुलदीप यादव को बाहर रखना भी थोड़ा कठोर है। उसने ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला है, इसलिए ये फैसला करना कि वो टीम में जगह बनाने के काबिल नहीं है, मुझे लगता है कि ये थोड़ा सख्त फैसला है।” Also Read - WTC Final: विराट कोहली के कैच के DRS रीव्यू पर बवाल; वीरेंद्र सहवाग ने अंपायरों की आलोचना की

भारतीय कमेंटेटर ने कहा, “उसने इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट में टर्निंग पिच पर गेंदबाजी की। आखिर में कुछ विकेट लिए। पिंक बॉल टेस्ट में वो नहीं खेला। और अब वो पूरी सीरीज से बाहर है।” Also Read - India vs New Zealand: साउथम्पटन में बंद नहीं हुई बारिश तो छह दिन तक खिंच सकता है WTC फाइनल

उन्होंने कहा, ” अब वो ना केवल विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल, बल्कि इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज से भी बाहर है। कोविड के समय में, आपके पास बड़े स्क्वाड ले जाने की सुविधा है तो फिर कुलदीप यादव क्यों नहीं।”

पूर्व क्रिकेटप ने आगे कहा, “आपके पास चार स्पिन गेंदबाजी विकल्प हैं- अश्विन, जडेजा, सुंदर और अक्षर पटेल लेकिन सभी फिंगर स्पिनर हैं, इसलिए एक ऐसी टीम जो कि रिस्ट स्पिनर के खिलाफ संघर्ष करती है उनके खिलाफ रिस्ट स्पिनर क्यों नहीं।”