नई दिल्ली : श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगाकारा इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी विश्व कप में उपयोग की जारी पिचों की विविधता से खुश नहीं हैं.इस विश्व कप में बारिश ने भी खलल डाली है और विकेट में बदलाव का यह भी एक कारण हो सकता है. बारिश की वजह से कई मैच रद्द भी हुए जिसमें भारत और न्यूजीलैंड का भी मुकाबला शामिल हैं.Also Read - Ashes 2021: पर्थ में नहीं खेला जाएगा पांचवां टेस्ट, यहां हो सकता है आयोजन!

Also Read - Ashes 2021-22 में टिम पेन की जगह लेंगे विकेटकीपर एलेक्स कैरी

एक अंग्रेजी अखबार ने संगाकारा के हवाले से बताया, “ऐसे बड़े टूर्नामेंट में एकसमान विकेट की जरूरत होती है और दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हो पाया है. टीमों को इसके अनुकूल होना पड़ेगा, लेकिन कुछ टीमों को इस चीज को लेकर जा बातें हो रही हैं उसे समझा जा सकता है.” Also Read - मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं इसलिए एशेज में अपना शत प्रतिशत दूंगा: जॉस बटलर

संगाकारा ने कहा, “श्रीलंका में पूरे मैदान पर ढकने का चलन है, लेकिन यहा ऐसा नहीं है. इसके लिए बहुत लोगों की आवश्यकता होती है, लेकिन हमारे लिए यह एक कला की तरह है और इससे हमें मॉनसून में होने वाली बारिश से क्रिकेट को बचाने में मदद मिलती है.”

INDvsPAK: धोनी को पीछे छोड़ रोहित बने सिक्सर किंग

41 वर्षीय संगाकारा ने ड्रेनेज सिस्टम को लेकर भी अपनी नाराजगी जाहिर की. उन्होंने कहा, “यह जाहिर है कि विभिन्न मैदानों का ड्रेनेज अलग है. ब्रिस्टल में हमने देखा कि धूप खिली हुई थी, लेकिन मैदान गीला होने के कारण मैच नहीं हो पाया जबकि साउथम्प्टन में सप्ताहभर बारिश होने के बाद भी इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच मैच खेला गया.”

संगाकारा ने भारत के चाटिल सलामी बल्लेबाज शिखर धवन पर कहा, “भारत के लिए शिखर धवन का चोटिल होना बड़ा झटका है. बड़े टूर्नामेंट में उनका रिकॉर्ड दमदार है. इस विश्व कप में उनकी शानदार शुरुआत हुई है और रोहित शर्मा के साथ उनकी साझेदारी ही वो आधार रही है जिस पर भारत ने अपनी शानदार जीत दर्ज की है.”