नई दिल्ली: इंडियन टी-20 लीग के 11वें संस्करण में लगातार दो मैच जीत चुकी चेन्नई रविवार को पंजाब के खिलाफ होने वाले मुकाबले में भी जीत की लय कायम रखने उतरेगा. दो साल के प्रतिबंध के बाद लीग में लौटी चेन्नई ने पहले मैच में गत चैंपियन मुंबई को और दूसरे मैच में कोलकाता को हराया था. महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई ने मुंबई के खिलाफ 166 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 75 रन पर अपने पांच विकेट गंवा दिए थे. लेकिन ड्वेन ब्रावो ने 30 गेंदों पर 68 रन बनाकर चेन्नई को मैच जीत दिला दी. Also Read - IPL 2020 Points Table, Orange and Purple Cap latest update: मयंक को पीछे छोड़ दूसरे नंबर पर पहुंचे धवन; शमी ने दी बुमराह को मात

Also Read - IPL 2020: बायो-बबल को लेकर KKR के कप्तान इयोन मोर्गन ने दिया बड़ा बयान, जेसन होल्डर भी हुए सहमत

विराट कोहली का मैच देखने पहुंची अनुष्का शर्मा, फ्लाइंग किस देकर किया चीयर Also Read - IPL 2020: लगातार 7वीं हार के बाद CSK के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बोले-हमें परिणाम नहीं बल्कि...

वहीं दूसरे मैच में चेन्नई ने कोलकाता के खिलाफ 203 रनों के लक्ष्य को अंतिम गेंद पर छक्का जड़कर हासिल कर लिया था. हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा ने विजयी छक्का लगाया था. चेन्नई को इस मैच में अपने विस्फोटक बल्लेबाज सुरैश रैना की कमी खल सकती है जो चोट के कारण अगले दो मैचों से बाहर हो गए हैं. दूसरी तरफ पंजाब की टीम ने अपने पहले मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स को हराया था. लेकिन अगले मैच में उसे बेंगलुरु के हाथों चार विकेट से हार का सामना करना पड़ा था.

मुंबई ने दिल्ली को दिया 195 रन का लक्ष्य, सूर्यकुमार-किशन का दमदार प्रदर्शन

पंजाब चाहेगी कि वह अपने घरेलू दर्शकों को जीत का तोहफा दे. चेन्नई के खिलाफ जीत दर्ज करने के लिए पंजाब के बल्लेबाजों लोकेश राहुल, युवराज सिंह, मयंक अग्रवाल और आरोन फिंच को अपना दम दिखाना होगा. रविचंद्रन अश्विन की कप्तानी वाली पंजाब की टीम इस मैच में मध्यक्रम में मनोज तिवारी को मौका दे सकती है जबकि निराशाजनक प्रदर्शन करने वाले तेज गेंदबाज मोहित शर्मा को अंतिम एकादश से बाहर बिठा सकती है. हालांकि कल के मुकाबले में देखा जाए तो पलड़ा चेन्नई का भारी दिखाई दे रहा है. चेन्नई ने पंजाब के साथ पिछले तीन मुकाबलों में से दो में जीत दर्ज की है.

टीमें :

चेन्नई : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान/विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, केदार जाधव, ड्वेन ब्रावो, कर्ण शर्मा, शेन वॉटसन, शार्दूल ठाकुर, अंबाती रायडु, मुरली विजय, हरभजन सिंह, फाफ डु प्लेसिस, मार्क वुड, सैम बिलिंग्स, इमारन ताहिर, दीपक चहर, लुंगी नगिदी, के.एम. आसिफ, एन. जगादेसन, कनिष्क सेठ, मोनू सिंह, ध्रुव शोरे, क्षितिज शर्मा, चेतन्य बिश्नोई.

पंजाब : लोकेश राहुल, मयंक अग्रवाल, युवराज सिंह, करूण नायर, डेविड मिलर, मार्कस स्टोयनिस, अक्षर पटेल, रविचंद्रन अश्विन (कप्तान), एजे टाई, मोहित शर्मा, मुजीब उर रहमान.