नई दिल्ली: जिम्बाब्वे क्रिकेट (जेडसी) ने गुरुवार को भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज लालचंद राजपूत को अपना अंतरिम मुख्य कोच बनाया है. बोर्ड ने मार्च में हीथ स्ट्रीक को टीम के मुख्य कोच पद से हटा दिया था. साथ ही पूरे सहयोगी स्टाफ को भी बर्खास्त कर दिया था. जेडसी ने एक बयान में कहा, “राजपूत पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के साथ होने वाली त्रिकोणीय टी-20 सीरीज से पहले तत्काल प्रभाव से काम संभालेंगे.” Also Read - भारतीय फुटबॉल के ‘गोल्डन ब्वॉय’ रहेंगे चुन्नी गोस्वामी : फ्रैंको फोर्टुनाटो

Also Read - जसप्रीत बुमराह बोले-मेरे एक्शन पर सवाल उठाने वालों को लगा कि मैं भारत के लिए नहीं खेल पाऊंगा

राजपूत 2007 में टी-20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के कोचिंग स्टाफ में शामिल थे. वह अफगानिस्तान के कोच भी रह चुके हैं और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियंस के कोच का भार भी संभाल चुके हैं. वह भारत की राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के कोच रह चुके हैं. राजपूत की पहली चुनौती हरारे में जुलाई में शुरू हो रही त्रिकोणीय टी-20 सीरीज है. Also Read - लॉकडाउन के कारण बीमार पत्नी को धनबाद से बाहर नहीं ले जा पा रहा ये क्रिकेटर, छलका दर्द

बसील थम्पी की वजह से हारा हैदराबाद, गेंदबाज के नाम दर्ज हुआ बेहद शर्मनाक रिकॉर्ड

क्रिकेट जिम्बाब्वे ने इस बात की जानकारी ट्विटर पर दी.

गौरतलब है कि टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी लालचंद राजपूत साल 2016 में अफगानिस्तान टीम के कोच रह चुके हैं. राजपूत की कोचिंग में अफगानिस्तान ने वेस्टइंडीज को हराया था. इसके अलावा वो घरेलू मैचों में असम के लिए काम कर चुके हैं. वहीं आईपीएल में मुंबई इंडियंस को भी कोचिंग दे चुके हैं.

कोटला में जीते तो चेन्नई को होगा बड़ा फायदा, दिल्ली के पास साख बचाने की चुनौती

बता दें कि राजपूत ने टीम इंडिया के लिए 2 टेस्ट और 4 वनडे मैच खेले हैं. इसके अलावा उन्होंने फर्स्ट क्लास के 110 मैचों में 7988 रन बनाए. इस दौरान राजपूत ने 20 शतक और 46 अर्धशतक जड़े हैं. इसके अलावा वो 59 विकेट भी ले चुके हैं. राजपूत ने लिस्ट ए के 61 मैचों में 1965 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 31 विकेट अपने नाम किए.