नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेटर जल्द ही अधिकारिक जर्सी पर नया ब्रांड पहनकर खेलेंगे, क्योंकि चीन की मोबाइल निर्माता कंपनी ओप्पो ने प्रायोजन अधिकार ऑनलाइन टयूटोरियल फर्म बायजूस को सौंप दिए हैं. बता दें कि मार्च 2017 में ओप्पो ने भारतीय टीम की जर्सी के पांच साल के अधिकार के लिए विवो मोबाइल की 768 करोड़ रुपए की बोली को पछाड़ दिया था.

बीसीसीआई और ओप्पो के बीच 1079 करोड़ रुपए का पांच साल का करार 2017 में हुआ था. विराट कोहली और उनकी टीम 15 सितंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी घरेलू सत्र में नए ब्रांड के नाम वाली जर्सी पहनेंगे. एक सूत्र ने कहा कि यह ट्रांसफर तीन पक्षों ओप्पो, बायजूस और बीसीसीआई के बीच करार है, जिस पर गुरुवार को हस्ताक्षर किए गए.

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ओप्पो और बायजूस आपस में कमीज के प्रायोजन के करार की शर्तें तय कर रहे हैं. सीओए को इस बारे में बता दिया गया है कि वे आपस में इस प्रायोजन के ट्रांसफर की बात कर रहे हैं.