मर्सिडीज के लुईस हैमिल्टन ने रविवार को ब्रिटिश ग्रां प्री जीतते हुए फॉर्मूला वन वर्ल्ड चैंपियनशिप में टॉप पर चल रहे सेबेस्टिनयन वेटल और अपने बीच का अंतर सिर्फ एक अंक का कर लिया है. लुईस ने लगातार चौथी बार ब्रिटिस ग्रां प्री का खिताब अपने नाम किया. Also Read - Hungarian GP: फॉर्मूला वन चैंपियन लुइस हेमिल्टन ने 8वीं बार जीता हंगरी ग्रां प्री, माइकल शूमाकर के इस रिकॉर्ड की बराबरी की

इस नाटकीय रही रेस में फेरारी के वेटेल की गाड़ी अंतिम समय में पंचर हो गई जिसकी वजह से वह सातवें स्थान पर रहे. उनकी टीम के उनके साथी किमी राइकोनेन को भी अंतिम चरण में इसी तरह की परेशानी का सामना करना पड़ा. Also Read - ऑस्ट्रिया से शुरू होगा फार्मूला वन सीजन, रद्द हुई फ्रेंच ग्रैंड प्रिक्स

ब्रिटिश खिलाड़ी हैमिल्टन ने रिकॉर्ड पांचवीं बार अपनी घरेलू ब्रिटिश ग्रैंड प्रिक्स जीती है, ये उनके करियर की कुल 57वीं जीत है. मर्सिडीज के हैमिल्टन के साथी वालटेरी बोटास दूसरे स्थान पर रहे. Also Read - फॉर्मूला वन चैंपियन लुइस हेमिल्टन ने खुद को किया आइसोलेट, COVID-19 पॉजीटिव के संपर्क आने के बाद लिया फैसला

इस जीत से खुश हैमिल्टन ने कहा, ‘ये अहसास मैं बयां नहीं कर सकता, समर्थन के लिए सभी का शुक्रिया, भगवान आपका भला करे!’ उन्होंने कहा, ये अविश्वसनीय है-मैं यहां आए सभी बच्चों से प्रेरित हुआ.’

फेरारी के राइकोनेन तीसरे स्थान पर रहे, रेनो के निको हल्कनबर्ग वेटल से एक स्थान आगे छठे स्थान पर रहे. सहारा फोर्स इंडिया ने दो अंक हासिल किए जब एस्तेबान ओकोन और सर्जियो पेरेज ने क्रमश: आठवें और नौवें स्थान पर रहते हुए टीम के लिए छह अंक जुटाए.