नई दिल्ली: आईपीएल 2018 में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से शानदार प्रदर्शन करने के बाद लोकेश राहुल की जगह भारत की टी-20 में तय है. राहुल ने 14 मैच खेलते हुए 659 रन बनाए. उन्होंने इस दौरान 6 अर्धशतक भी जड़े. इस पर राहुल का कहना है कि भारत की ओर से विश्वकप में खेलना उनका सपना रहा है. इसलिए वो टीम में किसी भी नंबर पर खेलने के लिए तैयार हैं. राहुल ने नंबर 4 पर खेलने की बात पर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी.

शुक्रवार को चंडीगढ़ में एक कार्यक्रम से इतर राहुल ने कहा, ”भारत के लिए विश्वकप में खेलना मेरा सपना रहा है. अगर टीम मैनेजमेंट चाहता हैं कि नंबर 4 पर खेलूं तो मैं इसके लिए तैयार हूं. क्यों कि टीम इंडिया के लिए खेलना अपने आप में बड़ी बात है. मुझे उम्मीद है कि मैं अपनी मौजूदा लय को वनडे मैचों में भी बरकरार रखूंगा.”

वेस्टइंडीज ने वर्ल्ड इलेवन को 72 रन से हराया, लुईस का तूफानी अर्धशतक

वर्ल्डकप को ध्यान में रखते हुए टीम इंडिया ने 2015 से अब तक नंबर 4 के लिए 10 से ज्यादा खिलाड़ियों को आजमाया है. लेकिन अभी तक टीम को इस स्थान के लिए सही खिलाड़ी नहीं मिल पाया है. लेकिन राहुल का कहना है कि वो इस स्थान पर अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं. उन्होंने कहा, ”अभी मेरा भारत के लिए रन बनाना मेरा लक्ष्य है. इसलिए इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं बतौर ओपनर खेल रहा हूं या मिडिल ऑर्डर में. हालांकि इससे जड़ा आखिरी निर्णय टीम मैनेजमेंट ही लेगा. अगर वो चाहेंगे कि मैं नंबर 4 पर खेलूं तो इस चुनौती के लिए तैयार हूं.”

सुरेश रैना ने बताई धोनी की सबसे बड़ी खूबी, CSK को बताया दिल के करीब

बता दें कि टीम इंडिया के युवा खिलाड़ी लोकेश राहुल ने हाल ही में खत्म हुए आईपीएल के सीजन 11 में दमदार प्रदर्शन किया. इसके अलावा वो इंटरनेशनल मैचों में शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं. राहुल ने 15 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में 500 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने एक शतक और 3 अर्धशतक जड़े हैं. राहुल का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 110 रन रहा है. इसके अलावा उन्होंने 146.63 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं.