अनुभवी महिला शटलर पीवी सिंधू और साइना नेहवाल को साल के पहले ही टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल से बाहर होना पड़ा है. दोनों खिलाड़ियों को शुक्रवार को मलेशिया मास्टर्स 2020 के अंतिम-8 के मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा. इस टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती भी अब खत्म हो गई है.

शेल्डन कॉट्रेल ने ‘छक्के’ से रचा इतिहास, विंडीज को दिलाई रोमांचक जीत

मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन सिंधू सबसे पहले कोर्ट पर उतरीं. उन्हें शीर्ष वरीय ताई जु यिंग से जबकि साइना को ओलंपिक चैम्पियन स्पेन की कैरोलिना मारिन से पराजय का सामना करना पड़ा.

साइना को मारिन ने आधे घंटे में किया बाहर

साइना कहीं भी मारिन की बराबरी करती नहीं दिखीं जिन्होंने आधे घंटे में भारतीय खिलाड़ी की चुनौती 21-8 21-7 से समाप्त कर दी. साइना स्पेनिश खिलाड़ी मारिन के सामने कड़ी चुनौती पेश नहीं कर सकीं. इस मैच से पहले दोनों खिलाड़ियों का रिकॉर्ड 6-6 से बराबर था.

ताई जु यिंग का सिंधू के खिलाफ जीत-हार का रिकॉर्ड 12-5 हो गया

चीनी ताइपे की दूसरी नंबर की खिलाड़ी जु यिंग ने क्वार्टरफाइनल में रियो ओलंपिक की रजत पदकधारी सिंधू को 21-16 21-16 से हराया जिससे उनका इस भारतीय के खिलाफ जीत का रिकॉर्ड 12-5 का हो गया.

INDvSL 3rd T20: पुणे में कैसा रहेगा मौसम का हाल, जानिए- कौन रहेगा किसपर हावी

जु यिंग से सिंधू को लगातार दूसरी पराजय का सामना करना पड़ा. वह पिछले साल अक्टूबर में फ्रेंच ओपन के क्वार्टर फाइनल में उनसे हारी थी. सिंधू की शुरुआत अच्छी नहीं रही और वह बढ़त का फायदा नहीं उठा सकीं जिससे पहला गेम 16-21 से गंवा बैठी और जु यिंग ने 1-0 से बढ़त बना ली.

दूसरे गेम में जु यिंग ने शुरू से ही दबदबा हासिल किया. 11-20 से पिछड़ रही सिंधू ने हालांकि छह मैच प्वाइंट बचाये लेकिन तब तक देर हो चुकी थी और जु यिंग ने आराम से इसे 21-16 से अपने नाम कर जीत हासिल की.