नई दिल्ली, श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का मन बना लिया है. इसके संकेत उन्होंने स्वीटजरलैंड में आइस क्रिकेट चैलेंज के प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिए. मलिंगा ने कहा कि लगातार अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से अंदर-बाहर होने की वजह से वो अब मानसिक रूप से थक चुके हैं. उनका आईपीएल करियर भी खत्म हो चुका है. मुझे नहीं लगता कि अब और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलूंगा.

यॉर्कर किंग के नाम से मशहूर लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट छोड़ने के संकेत मुंबई इंडियंस का गेंदबाजी मेंटर बनने के एक दिन बाद दिए हैं. वो पिछले एक दशक से आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस के अहम सदस्य हैं. इस दौरान मलिंगा ने मुंबई के लिए 157 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 110 विकेट चटकाए हैं.
हालांकि, अपने संन्यास के इरादे को लेकर मलिंगा ने फिलहाल श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड से बात नहीं की है. मलिंगा ने कहा कि वो स्वीटजरलैंड से लौटकर पहले घरेलू क्रिकेट खेलेंगे और फिर देखेंगे कि उनका शरीर कितना साथ दे रहा है.
मलिंगा श्रीलंका की टेस्ट टीम से पहले ही संन्यास ले चुके हैं. वहीं सितंबर 2017 के बाद से उन्होंने श्रीलंका के लिए कोई भी वनडे या टी-20 नहीं खेला है.

इनके 'साथ' से बन रही है साउथ अफ्रीका में बात, ये हैं विराट के  'X- फैक्टर' !

इनके 'साथ' से बन रही है साउथ अफ्रीका में बात, ये हैं विराट के 'X- फैक्टर' !


वनडे में 300 से ज्यादा विकेट चटका चुके श्रीलंका के तेज गेंदबाज ने संन्यास के मुद्दे पर आगे कहा कि ,‘‘ हर किसी को संकेत मिलता है । वसीम अकरम जैसे महान गेंदबाज को भी पता चला गया था कि उनका समय कब पूरा हुआ ।’’

मलिंगा ने ये भी कहा कि जब मुंबई इंडियंस ने उन्हें आईपीएल के ग्यारवें सीजन के लिए रिटेन नहीं किया तो उन्हें हैरानी नहीं हुई. उन्होंने कहा कि मुंबई के मालिकों ने मुझसे बात करके वो फैसला लिया. उनका इरादा अगले तीन साल के लिए बेहतरीन टीम बनाने का है. इससे ये साफ हो जाता है कि प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में मेरा सफर अब खत्म हो चुका है.