नई दिल्ली: चेन्नई और कोलकाता के बीच इंडियन टी-20 लीग के मैच के दौरान दर्शकों के बीच से शरारती तत्वों ने भारतीय टीम के खिलाड़ी रविन्द्र जडेजा पर जूता फेंका जिन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया. यह घटना मैच में पहले बल्लेबाजी कर रहे कोलकाता की पारी के आठवें ओवर में घटी. कुछ लोगों ने लॉन्ग ऑन पर फील्डिंग कर रहे जडेजा पर जूता फेंका, हालांकि जूता उन्हें नहीं लगा. Also Read - जडेजा के चोटिल होने पर खुश हुए थे कई लोग लेकिन अक्षर पटेल ने उनकी कमी पूरी की: विराट कोहली

Also Read - Ind vs Eng: अक्षर पटेल ने कहा- बल्ले से नहीं तो गेंद से टीम की जीत में अपना योगदान देकर खुश हूं

इसी समय दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस और तेज गेंदबाज लुंगी एन्गिडी भी वहां चहल कदमी कर रहे थे. इस मैच से पहले तमिल समर्थक कार्यकर्ताओं ने राज्य में कावेरी जल विवाद के बीच टी-20 लीग मैच कराने के विरोध में एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम के बाहर बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन किया. Also Read - IND vs ENG: चेन्नई टेस्ट के दौरान सिराज ने पकड़ी कुलदीप की गर्दन; वायरल हुआ वीडियो

हैदराबाद के इस खिलाड़ी को शतक जड़ने के बावजूद टीम इंडिया में नहीं मिली थी जगह

इस मैच में कोलकाता ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 202 रन बनाए. इस दौरान टीम के दिग्गज ऑलराउंडर खिलाड़ी आंद्रे रसेल ने शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने 36 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 88 रन बनाए. इस दौरान रसेल ने 11 छक्के और 1 चौका जड़ा. इससे पहले टीम के लिए क्रिस लिन और सुनील नरेन ओपनिंग करने आए. लिन ने 16 गेंदों का सामना करते हुए 4 चौकों की मदद से 22 रन बनाए और फिर रविन्द्र जडेजा की गेंद पर बोल्ड हो गए. वहीं नरेन 12 रन बनाकर आउट हुए.

हैदराबाद के खिलाड़ी ने जाहिर किया बेहतरीन प्रदर्शन का राज, धोनी-रैना को दिया क्रेडिट

रोबिन उथप्पा ने 16 गेंदों का सामना करते हुए 3 छक्कों और 2 चौकों की मदद से 29 रन की अहम पारी खेली. नितीश राणा 16 रन बनाकर आउट हुए. कप्तान दिनेश कार्तिक 25 गेंदों में 26 रन बनाकर शेन वॉटसन की गेंद का शिकार बने. रिंकू सिंह महज 2 रन ही बना पाए. वहीं टॉम कर्रन 2 रन बनाकर नाबाद रहे. इस दौरान चेन्नई की तरफ से गेंदबाजी करते हुए शेन वॉटसन ने 4 ओवर में 39 रन देकर 2 विकेट हासिल किए. वहीं हरभजन सिंह ने किफायती गेंदबाजी करते हुए 2 ओवर में 11 रन देकर 1 विकेट लिया. इसके अलावा रविन्द्र जडेजा और शार्दुल ठाकुर ने एक-एक विकेट लिया. ड्वेन ब्रावो काफी महंगे साबित हुए. उन्होंने 3 ओवर में 50 रन दिए.