नई दिल्ली. कहते हैं बड़ा खिलाड़ी वो होता है जिसमें मैच खत्म करने का माद्दा हो. फंसे हुए मैच को अपने दम पर उड़ा ले जाने की काबिलियत हो. कुछ इसी मिजाज और अंदाज वाले बड़े खिलाड़ी हैं टीम इंडिया के पांडे जी यानी कि मनीष पांडे, जिन्होंने कोलंबो में दबंगई दिखाकर ना सिर्फ लंका लूटी बल्कि टीम इंडिया को फाइनल का टिकट भी दिला दिया.

पांडे जी की ‘दबंगई’ 

श्रीलंका के खिलाफ मुकाबले में मनीष पांडे 5वें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे. जिस वक्त उनके कदम क्रीज पर पड़े मैच में श्रीलंकाई टीम हावी थी क्योंकि भारत का पूरा टॉप ऑर्डर पवेलियन लौट चुका था. ऐसे में उनके कंधे पर ना सिर्फ एक बड़ी बल्कि दोहरी जिम्मेदारी थी. टीम इंडिया को श्रीलंका से पहले मैच में मिली हार का हिसाब भी बराबर करना था और फाइनल का टिकट भी हासिल करना था. टीम इंडिया के पांडे जी इस दोहरी जिम्मेदारी पर सौ फीसदी खरे उतरे.

मनीष पांडे ने 31 गेंदों पर नाबाद 42 रन बनाए जिसमें 3 चौके और 1 छक्का शामिल रहा. इस पारी के बूते उन्होंने दिखाया कि उनमें एक बड़े फीनिशर के सारे गुण मौजूद हैं. इस दमदार पारी की स्क्रिप्ट लिखने के बाद मनीष पांडे ने कहा, ” 5वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए मेरा इरादा आखिर तक खेलने का था . मैं मैच को फीनिश कर पवेलियन लौटना चाहता था, जो मैंने किया. ”

गजब फीनिशर हैं पांडे जी 

कमाल की बात है कि पांडे ने इस तरह का फीनिशिंग टच सिर्फ T20 मुकाबले में ही नहीं दिखाया है, बल्कि वनडे मुकाबलों में भी मौका मिलने पर वो कई बार टीम के लिए फीनिशर की भूमिका निभा चुके हैं. बेशक, गेम को फीनिश करते हुए उन्होंने कोई बड़ा स्कोर ना किया हो लेकिन लोअर ऑर्डर में उनके बनाए कम रन भी टीम के लिए उपयोगी रहे हैं.

DK के साथ खेले जमके 

कोलंबो में कमाल करते हुए टीम इंडिया के पांडे जी जब जीत की स्क्रिप्ट लिख रहे थे तो इस काम में उन्हें दूसरे छोर से दिनेश कार्तिक भी खूब साथ दे रहे थे. दोनों के बीच 5वें विकेट के लिए नाबाद 68 रन की साझेदारी हुई. कार्तिक ने 25 गेंदों पर 5 चौकों की मदद से नाबाद 39 रन बनाए. पांडे ने कहा, ” मैं और कार्तिक ये जानते थे कि हमारे पीछे ज्यादा बल्लेबाजी बची नहीं है. लिहाजा, हमने संभलकर खेलते हुए मैच को खत्म करने का प्लान बनाया. ”

T20 में कोई जवाब नहीं 

जनवरी 2017 के बाद से इंटरनेशनल T20 में मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक सबसे ज्यादा औसत वाले दो टॉप भारतीय बल्लेबाज हैं. मनीष पांडे का इंटरनेशनल T20 में औसत जहां 54.71 का है वहीं दिनेश कार्तिक का औसत 53.50 का है.

साउथ अफ्रीका से लेकर श्रीलंका तक छाए

साउथ अफ्रीका दौरे पर भी मनीष पांडे T20 सीरीज में शिखर धवन के बाद दूसरे सफल भारतीय बल्लेबाज रहे थे. उन्होंने 3 मैचों में 121 रन बनाए थे, जिसमें नाबाद 79 रन उनका बेस्ट स्कोर रहा था. निदाहस ट्रॉफी में भी मनीष पांडे शिखर धवन के बाद भारत के दूसरे सबसे सफल बल्लेबाज हैं. इस टूर्नामेंट के 3 मैचों में अब तक वो 106 रन बना चुके हैं.

लूटी लंका, टीम इंडिया का फाइनल का टिकट पक्का

मनीष पांडे की दबंग पारी की बदौलत टीम इंडिया ने श्रीलंका से हिसाब तो बराबर किया ही साथ ही फाइनल में पहुचने का अपना टिकट भी पक्का कर लिया है. भारत के 3 मैचों में अब 2 जीत और 1 हार के साथ 4 अंक है और वो प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर है. यही नहीं श्रीलंका और बांग्लादेश के मुकाबले उसका रन रेट काफी बेहतर है.

टीम             मैच        जीत         हार       अंक         रनरेट
भारत            3            2              1          4           + 0.210
श्रीलंका          3           1               2          2           – 0.072
बांग्लादेश      2            1              1           2            – 0.231