नई दिल्ली : भारत के लिए वुमेन वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में शनिवार का दिन ऐतिहासिक रहा. देश की स्टार बॉक्सर मैरी कॉम ने छठी बार चैम्पियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रहा. मैरी कॉम ने फाइनल मुकाबले में यूक्रेन की हना ओखोटा को हराकर मेडल पर कब्जा किया. मैरी कॉम वर्ल्ड चैम्पियनशिप में छठी बार गोल्ड जीतने वाली पहली वुमेन बॉक्सर भी हैं. वो इस शानदार जीत के बाद भावुक हो गईं. उन्होंने अपने सभी प्रशसकों को धन्यवाद कहा.

मैरी कॉम फाइनल में जीत के बाद भावुक हो गईं. उन्होंने यूक्रेन की बॉक्सर को हराने के बाद कहा, “मैं इस जीत के लिए अपने सभी प्रशंसकों का शुक्रिया अदा करती हूं, जो मुझे यहां समर्थन करने के लिए आए. मैं आप सभी की तहेदिल से शुक्रगुजार हूं. मेरे लिए यह महान पल है.”

वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप: मैरी कॉम का ऐतिहासिक प्रदर्शन, हना ओखोटा को हरा छठी बार जीता गोल्ड

देखें वीडियो :

टी-10 लीग में नॉर्दन वॉरियर्स का ऐतिहासिक प्रदर्शन, 10 ओवर में 19 छक्के जड़कर बनाए 183 रन

बता दें कि मैरी कॉम ने वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में साल 2002 में पहली बार गोल्ड मेडल जीता. जब कि उन्होंने दूसरी बार 2005 और तीसरी बार 2006 गोल्ड पर कब्जा किया था. इस तरह उन्होंने शानदार प्रदर्शन को बरकरार रखते हुए साल 2008 चौथी बार और साल 2010 में पांचवीं बार गोल्ड जीता. अब उन्होंने साल 2018 में गोल्ड जीतकर इतिहास रचा.