स्कॉटलैंड के बल्लेबाज मैट मैकेन ने कलाई की चोट की वजह से महज 26 साल की उम्र में प्रोफेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया है. मैकेन पिछले काफी समय से चोट से परेशान थे और पिछले साल कलाई की सर्जरी कराने के बावजूद ये पूरी तरह से ठीक नहीं हो पाई और मैकेन को क्रिकेट को अलविदा कहना पड़ा.

भारी मन से अपने संन्यास की घोषणा करते हुए मैकेन ने कहा, ‘बहुत ही दुख के साथ और भारी मन से मुझे कलाई की चोट के कारण प्रोफेशनल क्रिकेट से अपने संन्यास की घोषणा करनी पड़ रही है. मेडिकल सलाह को ध्यान में रखते हुए, मेरी सेहत मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण है, इसलिए मुझे इसका ध्यान रखना पड़ेगा.’

मैकेन ने कहा, ‘स्कॉटलैंड की तरफ से खेलने से मुझे बहुत खुशी और गर्व का अनुभव हुआ और ऐसा फिर ने कर पाने के बारे में सोचना सच में बहुत दुखद है.’

मैकेन स्कॉटलैंड की बैटिंग का प्रमुख हिस्सा रहे हैं. वनडे में उनका औसत 33 और टी20 में 40 का रहा है. इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनी एकमात्र सेंचुरी 2013 में उन्होंने कीनिया के खिलाफ लगाई थी. वह एक उपयोगी गेंदबाज भी थे. अपने छोटे से करियर में उन्होंने दोनों फॉर्मेट में 14 विकेट लिए थे. स्कॉटलैंड की आईसीसी टूर्नामेंट में एकमात्र जीत में वह मैन ऑफ द मैच रहे, ये जीत पिछले साल हुए टी20 वर्ल्ड कप में हॉन्गकॉन्ग पर मिली थी.

मैकेने ने अपने करियर में 23 वनडे मैचों में एक शतक और 3 अर्धशतक की मदद से 734 रन बनाए और 9 विकेट के लिए जबकि 13 इंटरनेशल टी20 मैचों में उन्होंने 407 रन बनाए और 5 विकेट लिए.