इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट दौरे पर पहुंचे भारतीय स्क्वाड से एक और इंजरी की खबर आई है। 4 अगस्त से शुरू होने वाली सीरीज से पहले भारतीय टीम के शीर्ष क्रम बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) नेट्स में सिर पर गेंद लगने से चोटिल होकर पहले टेस्ट से बाहर हो गए हैं।Also Read - IPL 2021: आज पंजाब किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की भिड़ंत, अब तक दोनों ने जीते हैं 3-3 मैच

बीसीसीआई द्वारा जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया, “सोमवार को नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज में भारत के नेट सेशन के दौरान बल्लेबाजी करते हुए सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल के हेलमेट पर गेंद लग गई।” Also Read - अंबाती रायुडू के एक्स-रे में फ्रैक्चर नहीं, दीपक चाहर भी ठीक हैं: CSK कोच स्टीफन फ्लेमिंग

बयान में आगे कहा गया, “बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने उनका आकलन किया और उनका कंकशन टेस्ट किया गया। उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ शुरुआती टेस्ट से बाहर कर दिया गया है। 30 साल के खिलाड़ी की हालत स्थिर है और वो करीबी चिकित्सकीय निगरानी में रहेंगे।” Also Read - IPL 2021, PBKS vs RR: कब और कहां देखें पंजाब किंग्स vs राजस्थान रॉयल्स मैच की लाइव स्ट्रीमिंग

टीम के उप कप्तान अंजिक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने खबर की पुष्टि की है। उप कप्तान रहाणे ने इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम टेस्ट मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “मयंक अग्रवाल को नेट्स के दौरान हेलमेट पर चोट लगी थी, और मेडिकल टीम द्वारा इसका आकलन किया जा रहा है। जल्द ही एक बयान जारी किया जाएगा।”

बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज और उससे पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मैच के लिए चुन गए स्क्वाड से अब तक कुल तीन खिलाड़ी चोटिल हो चुके हैं।

भारतीय टेस्ट स्क्वाड के शीर्ष क्रम बल्लेबाज शुभमन गिल, स्पिन ऑलराउंडर वाशिंगटन सुंदर और तेज गेंदबाज आवेश खान चोटिल होकर इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज से बाहर हो चुके हैं।

बीसीसीआई ने इन तीन खिलाड़ियों की जगह पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव को बतौर बैकअप इंग्लैंड भेजने का ऐलान किया था। हालांकि ये दोनों खिलाड़ी श्रीलंका दौरे पर गई भारतीय सीमित ओवर फॉर्मेट टीम का हिस्सा थे, जिसके कई खिलाड़ी कोविड टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे।

ऐसे में यादव और शॉ को इंग्लैंड रवाना होने से पहले तीन कोविड टेस्ट में निगेटिव आना होगा, जिसके बाद वो यूके पहुंचकर क्वारेंटीन होंगे। यानि कि दोनों खिलाड़ियों का इंग्लैंड के नॉटिंघम टेस्ट से पहले इंग्लैंड पहुंचना नामुमकिन है।