नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार से टीम इंडिया टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच खेलने मैदान में उतरेगी. पिछला मैच हारने के बाद भारत निश्चित तौर पर प्लेइंग इलेवन में बदलाव करेगा. टीम का टॉप बैटिंग ऑर्डर पूरी तरह से फ्लॉप रहा. ओपनर लोकेश राहुल और मुरली विजय कुछ खास नहीं कर पाए. जब कि अजिंक्य रहाणे, रिषभ पंत और लोवर मिडिल ऑर्डर के बैट्समैन भी बिना किसी विशेष योगदान के पवेलियन लौट गए. इस तरह भारत को हार का सामना करना पड़ा. मेलबर्न में खेले जाने वाले अगले मुकाबले में भारत के सामने ओपनिंग की पहले सुलझाने की चुनौती होगी.

दरअसल लोकेश राहुल पिछले दो मुकाबलों में भारत को अच्छी शुरुआत नहीं दे पाए. वो एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में 2 रन बनाकर आउट हुए. जब कि पर्थ टेस्ट की पहली पारी में 2 रन और दूसरी पारी बिना खाता खोले आउट हुए. जब कि मुरली एडिलेड में पहली पारी में 11 रन और दूसरी पारी में जीरो पर आउट हुए. वो पर्थ में पहली पारी में बिना खाता खोले आउट हुए और दूसरी पारी में 20 रन बनाकर आउट हुए. लिहाजा अगले मुकाबले में टीम मैनेजमेंट निश्चित तौर पर ओपनिंग में बदलाव करेगा.

बॉक्सिंग डे टेस्ट के लिए टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में आ सकता है ये खिलाड़ी

भारतीय टीम राहुल को ओपनिंग से हटा सकती है. उनकी हनुमा विहारी या मयंक अग्रवाल को मौका दे सकती है. हनुमा ने पिछले मुकाबलों में बतौर ऑलराउंडर उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है. इसलिए उन्हें ओपनिंग में आजमाया जा सकता है. उन्होंने प्रैक्टिस मैच में अर्धशतक भी लगाया था. इसलिए हनुमा को मौका दिया जा सकता है.

जब कि मयंक को आखिरी दो मुकाबलों के लिए टीम में शामिल किया गया. मयंक ने अभी तक टीम इंडिया के लिए डेब्यू नहीं किया है. लेकिन इससे पहले घरेलू मैचों में शानदार प्रदर्शन करते रहे हैं. उन्होंने न्यूजीलैंड ए के खिलाफ कई अच्छी पारियां खेली हैं. इसलिए मयंक को भी मौका मिल सकता है.

ऑस्ट्रेलिया आने से पहले जडेजा को लगे थे इंजेक्शन, रवि शास्त्री ने किया खुलासा

बता दें कि मयंक ने फर्स्ट क्लास मैचों की 78 पारियों में 3599 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 304 रन रहा है. उन्होंने 8 शतक और 20 अर्धशतक भी जड़े हैं. मयंक का फर्स्ट क्लास में 49.98 का एवरेज रहा है. जब कि उन्होंने लिस्ट ए की 75 पारियों में 3605 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 12 शतक और 14 अर्धशतक लगाए हैं.