सेरेना विलियम्स (Serena Williams) ने रविवार को विम्बलडन (Wimbledon 2021) के वीडियो कांफ्रेंस में बताया कि वो टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भाग नहीं लेंगी लेकिन उन्होंने इसका कोई कारण नहीं बताया।Also Read - Wimbledon: ओह नो! एक साल बाद लौटीं Serena Williams पहले ही मैच में बाहर

सेरेना ने कहा, ‘‘मैं वास्तव में ओलंपिक की सूची में नहीं हूं । ऐसा नहीं है कि मुझे इस बारे में पता नहीं हैं। अगर ये सही है तो मुझे वहां नहीं होना चाहिए।’’ Also Read - इगा स्वियातेक ने जीता लगातार 36वां मैच जीता, Coco Gauff भी Wimbledon के दूसरे दौर में पहुंची

इस 39 साल की खिलाड़ी ने अमेरिका के लिए ओलंपिक खेलों में चार स्वर्ण पदक जीते हैं जिसमें 2012 लंदन ओलंपिक में एकल और युगल दोनों वर्ग का स्वर्ण शामिल हैं। वह 2000 में सिडनी और 2008 में बीजिंग ओलंपिक में युगल में स्वर्ण जीत चुकी हैं। उन्होंने युगल वर्ग के सभी स्वर्ण बड़ी बहन वीनस विलियम्स के साथ जीते हैं। Also Read - नोवाक जोकोविच ने जीत के साथ शुरू किया विंबलडन अभियान; चारों ग्रैंड स्लैम में 80 मैच जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने

रियो ओलंपिक (2016) में सेरेना एकल वर्ग में तीसरे दौर में हार गयी थी जबकि युगल में वह अपनी वीनस के साथ पहले दौर में ही बाहर हो गयी थी। उन्होंने कहा, ‘‘ओलंपिक को लेकर मेरे इस फैसले के पीछे कई कारण हैं। मैं वास्तव में वहां नहीं जाना चाहती। माफी चाहूंगी।’’

राफेल नडाल और डोमिनिक थिएम जैसे अन्य शीर्ष टेनिस खिलाड़ियों ने भी कहा है कि वे जापान नहीं जाएंगे। हालांकि रोजर फेडरर ने शनिवार को कहा कि उन्होंने अभी तक ये तय नहीं किया है कि वो ओलंपिक खेलों में भाग लेंगे या नहीं। उन्होंने कहा ये इस पर निर्भर करेगा कि विंबलडन में चीजें कैसी रहती हैं।