भारतीय क्रिकेट टीम और पाकिस्तान (India vs Pakistan) के बीच अंतिम बार सीमित ओवरों की सीरीज 2012-13 में खेली गई थी. उस दौरान पाकिस्तान की टीम 2 टी20 और 3 वनडे मैचों की सीरीज खेलने भारत दौरे पर आई थी. दोनों टीमों ने पिछली द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज 2007-08 में खेला था, जब पाकिस्तान ने भारत का दौरा किया था. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकलअथर्टन (Mike Atherton) का मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज होने की कम से कम संभावना है और उनके अनुसार यह ‘बहुत शर्मनाक’ है. Also Read - इस पाकिस्तानी विकेटकीपर के कायल हुए किरण मोरे, 'ऑलराउंड पैकज' बताया

‘भारत-पाक के बीच द्विपक्षीय सीरीज ना होना शर्मनाक’ Also Read - Australia Tour Of England : क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने खिलाड़ियों को गेंद पर पसीना लगाने से रोका, जानें पूरी डिटेल

अथर्टन ने स्काई स्पोटर्स क्रिकेट डॉक्यूमेंट्री में कहा, ‘मुझे लगता है कि भारत-पाकिस्तान के बीच आईसीसी टूनार्मेंटों के खेलने या यहां तक कि तटस्थ स्थान पर भी खेलने की संभावना कम से कम है. वे एक-दूसरे का साथ खेलने से बहुत दूर लगते हैं जोकि एक बहुत शर्म की बात है क्योंकि यह एक ऐसी चीज होगी जो टेस्ट क्रिकेट को बहुत बढ़ावा देगी.’ Also Read - महेंद्र सिंह धोनी में बड़े शॉट खेलने की काबिलियत थी : सौरव गांगुली

दोनों आईसीसी की टूर्नामेंट में पिछले साल वर्ल्ड कप में भिड़ी थीं

एशिया की दो दिग्गज टीमें आईसीसी के टूर्नामेंट में पिछली बार 2019 विश्व कप (2019 World Cup) में एक दूसरे से भिड़ी थीं जब विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने पाकिस्तान को हराया था.

बकौल अर्थटन, ‘भारत और पाकिस्तान के बीच का मुकाबला अविश्वसनीय होता है और हम पिछले साल विश्व कप में ओल्ड ट्रेफर्ड में यह देख चुके हैं. मुझे लगता है कि इस मैच के लिए 600,000 आवेदन मिले और 25000 टिकट बिके थे.