ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान माइकल क्‍लार्क (Michael Clarke) मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली (Virat Kohli) के खेल के बड़े प्रशंसक हैं. क्‍लार्क की नजर में तकनीक के मामले में सचिन तेंदुलकर को का कोई सामी नहीं है. वर्तमान में विराट उनकी भूमिका अच्‍छे से निभा रहे हैं. Also Read - 'चेज मास्टर' विराट कोहली का मुरीद हुआ ये ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज, बताई वजह

मौजूदा समय में क्रिकेट जगत में विराट कोहली (Virat Kohli) ही एकमात्र खिलाड़ी नजर आते हैं जो सचिन के शतकों के शतक को तोड़ सकते हैं. वो वनडे और टेस्‍ट क्रिकेट में नंबर-1 बल्‍लेबाज हैं. विराट की उम्र अभी 31 साल है और वो शतकों का शतक लगाने में 30 सैंकड़े दूर हैं. Also Read - Global day of parents पर सचिन तेंदुलकर की सलाह- इस मुश्किल समय में माता-पिता का ध्यान रखें

माइकल क्लार्क (Michael Clarke) का मानना है कि विराट कोहली (Virat Kohli) की बड़े शतक जमाने के प्रति दृढ इच्छा सचिन तेंदुलकर जैसी है, जो अपने जमाने के सबसे संपूर्ण बल्लेबाज थे. Also Read - टीम इंडिया के लिए खास है रोहित शर्मा-विराट कोहली की जोड़ी : कुमार संगकारा

क्लार्क ने कहा कि उन्हें याद नहीं आता कि जब वह खेला करते थे तब तेंदुलकर की तरह कोई दूसरा संपूर्ण बल्लेबाज था. तेंदुलकर को आउट करना मुश्किल था और उनकी तकनीक में कोई खामी नहीं थी.

क्लार्क ने ‘बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफास्ट’ रेडियो शो में कहा, ‘‘ मैंने जितने बल्लेबाज देखे उनमें संभवत: तेंदुलकर तकनीकी तौर पर सर्वश्रेष्ठ थे. उन्हें आउट करना बहुत मुश्किल था. उनकी कोई कमजोरी नहीं थी. आप केवल उम्मीद कर सकते थे कि वह गलती करें.’’

क्‍लार्क ने वर्तमान समय में विराट कोहली (Virat Kohli) को सभी प्रारूपों का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज करार दिया. ‘‘मुझे लगता है कि अभी वह सभी तीनों प्रारूपों में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज है. उनका वनडे और टी20 का रिकॉर्ड बेमिसाल है और उन्हें टेस्ट क्रिकेट में भी दबदबा बनाने का तरीका पता चल गया है. ’’
‘‘कोहली और तेंदुलकर में एक समानता है. दोनों को बड़े शतक बनाना पसंद रहा है.’’