टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली हाल के दिनों में इयान हिली, मिशेल जॉनसन जैसे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटरों के साथ-साथ ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के भी निशाने पर रहे हैं। रांची में तीसरे टेस्ट के खत्म होने के बाद तो ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने कोहली की तुलना अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तक से कर दी।

लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने कोहली ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने विराट कोहली का बचाव करते हुए कहा है कि दो-तीन ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार भारतीय कप्तान की छवि खराब करने का प्रयास कर रहे हैं।

अपनी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को 2015 का वर्ल्ड कप जिताने वाले क्लार्क ने कहा कि कोहली को कुछ ऑस्ट्रेलियाई पत्रकारों को लेकर परेशान नहीं होना चाहिए। ऑस्ट्रेलियाई अखबार ‘डेली टेलीग्राफ’ ने अपनी रिपोर्ट में कोहली की तुलना अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से की थी। इसके अलावा खेल टेलीविजन चैनल फॉक्स स्पोर्ट्स ने अपने फेसबुक पेज पर एक मत-सर्वेक्षण करवाया था, जिसमें उसने बिल्ली के बच्चे और एक पांडा के साथ कोहली की तस्वीर जारी की थी। यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया की मीडिया ने विराट कोहली को बना दिया खेलों का डोनाल्ड ट्रंप!

टेलीग्राफ ने लिखा था कि राष्ट्रपति ट्रंप की तरह ही कोहली भी अपनी गलतियों के लिए मीडिया को दोषी ठहराते हैं। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया बैंगलोर टेस्ट में डीआरएस को लेकर हुए विवाद के बाद से ही कोहली को लगातार निशाना बना रहा है।

लेकिन क्लार्क ने कोहली का समर्थन करते हुए कहा, ‘विराट कोहली की डोनाल्ड ट्रंप से तुलना-कितनी शर्म की बात है। विराट ने जो किया स्मिथ भी वही करते। ध्यान रखिए, मैं कोहली को पसंद करता हूं और ऑस्ट्रेलियाई लोग भी कोहली को प्यार करते हैं। वह जिस तरह से खेलते हैं मुझे हमेशा उनके अंदर एक ऑस्ट्रेलियाई नजर आता है और वह जिस तरह से चुनौतियों को स्वीकार करते हैं, मुझे वह बेहद पसंद है। सिर्फ दो-तीन पत्रकार हैं जो कोहली की छवि को खराब कर रहे हैं, विराट को इससे परेशान नहीं होना चाहिए।’ यह भी पढ़ें: विराट कोहली की फैन है क्रिकेट खेलने वाली ये कश्मीरी लड़की, लिखती है ख़त