भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने चार महीने तक चोट से जूझने के बाद जनवरी महीने में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में फिर वापसी की। वो इससे पहले भी कई बार चोट के चलते टीम से अंदर बाहर होते रहे हैं। वेस्टइंडीज के दिग्गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग (Michael Holding) का मानना है कि छोटा रनअप लेना ही बार-बार बुमराह के चोटिल होने की मुख्‍य वजह है। Also Read - थूक के इस्‍तेमाल पर रोक से बिगड़ेगा गेंद-बल्‍ले का संतुलन, अनिल कुंबले का सुझाव, पिच में हो बदलाव

होल्‍डिंग ने कहा आज नहीं तो कल बुमराह को अपने रनअप को लंबा करना ही होगा। ‘सोनी टेन पिट स्टॉप’ कार्यक्रम में माइकल होल्डिंग ने कहा, ‘‘बुमराह पिच पर तेजी से गेंद को पटकते हैं। छोटे रनअप के साथ यह उन्हें विशेष बनाता है। बल्लेबाजों के लिए उनकी गेंद को पढ़ना मुश्किल हो जाता है।’’ Also Read - चहल पर आपत्तिजनक टिप्‍पणी के इस्‍तेमाल के मामले में युवराज सिंह के खिलाफ शिकायत दर्ज, पुलिस ने...

होल्डिंग ने कहा कि इसके अपने फायदे है लेकिन इसका नुकसान भी है। ‘‘बुमराह को लेकर मेरी जो समस्या है मैने उन्हें बता दिया है। मैंने उन्हें आखिरी बार इंग्लैंड में देखा था। इतने छोटे रनअप और इतनी मेहनत को वह कितने समय तक जारी रख पायेंगे। उनका शरीर भी इंसान का है, वह मशीन नहीं है।’’ Also Read - यौन उत्‍पीड़न के मामले में भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी को कोच पद से किया गया बर्खास्‍त

माइकल होल्डिंग का मानना है कि बुमराह और मोहम्मद शमी भारत के खास तेज गेंदबाज है और यह ‘सिर्फ गेंद की गति’ के कारण नहीं है। ‘‘गति का होना जरूरी है लेकिन यह तभी कारगर है जब इसपर नियंत्रण हो और इन दोनों का नियंत्रण है। शमी बहुत लंबे कद के नहीं है, वह बहुत फुर्तीले भी नहीं है लेकिन तेज गेंद फेंकते है। उसके पास नियंत्रण है और वह गेंद को थोड़ा स्विंग भी करते है.’’