वेस्‍टइंडीज के दिग्‍गज खिलाड़ी रहे माइकल होल्डिंग (Michael Holding) आईपीएल (IPL Commentary) में कमेंट्री नहीं करना चाहते हैं. यहां तक कि वो टी20 क्रिकेट में भी कमेंट्री नहीं करना चाहते हैं. होल्डिंग की माने तो वेस्‍टइंडीज की क्रिकेट टीम के लगातार बिगड़ते प्रदर्शन के पीछे टी20 क्रिकेट का ही हाथ है.Also Read - रोहित को हुआ कोरोना, पैदा हुआ नेतृत्‍व संकट, इस अनुभवी बल्‍लेबाज को सौंपी जा सकती है कमान

इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत के दौरान माइकल होल्डिंग ने कहा, “वेस्‍टइंडीज के बहुत सारे खिलाड़ी अपने देश के लिए खेलने में दिलचस्‍पी नहीं रखते हैं. जब आप छह से आठ लाख डॉलर छह सप्‍ताह के कमाएंगे तो फिर आप क्‍या करने जा रहे हैं ? मैं क्रिकेटर्स को इसके लिए दोषी नहीं ठहरा रहा हूं. मैं खेल के प्रशासकों को दोषी मानता हूं. वेस्‍टइंडीज की टीम टी20 टूर्नामेंट जीत जाएगी, जो क्रिकेट नहीं है.” Also Read - भारत को बड़ा झटका, टेस्ट मैच से पहले Rohit Sharma कोरोना पॉजिटिव, अब खेल सकेंगे टेस्ट?

माइकल होल्डिंग से इस दौरान पूछा गया कि आप आईपीएल (IPL Commentary) के दौरान कब कमेंट्री करते नजर आएंगे. उन्‍होंने तुरंत जवाब दिया, टी20 क्रिकेट ही नहीं है.” Also Read - फॉर्म में वापस लौटे Virat Kohli, 2 छक्कों और 5 चौकों के साथ जड़े 67 रन

माइकल होल्डिंग (Michael Holding) ने विराट कोहली की कप्‍तानी पर भी अपनी राय खुलकर रखी। उन्‍होने कहा, “विराट (Virat Kohli)  को अपनी टोन (उग्र व्‍यवहार) को थोड़ा कम करने की जरूरत है ताकि उनकी टीम रिलेक्‍स कर सके.”

माइकल होल्डिंग (Michael Holding) ने आज की टीम और उनके समय की भारतीय टीम के बीच भी तुलना की. “दोनों दौर एक दम अलग हैं. उस वक्‍त केवल एक या दो भारतीय खिलाड़ी ही फिट हुआ करते थे. आज पूरी टीम फिट है. उनकी खेलने की स्किल में ज्‍यादा बदलाव नहीं आया है लेकिन अब खिलाड़ी ज्‍यादा एथलेटिक हैं. उनकी फिटनेस भी काफी शानदार स्‍तर की नजर आती है. खेलने के रवैये में बदलाव के साथ आपकी कला भारतीय क्रिकेट को नए स्‍तर पर ले जाती है.”