एडिलेड, 4 फरवरी | चोट से उबर रहे आस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान माइकल क्लार्क के निजी ट्रेनर ने बुधवार को कहा कि विश्व कप टीम में जगह पक्की करने के लिए क्लार्क किसी भी चुनौतीपूर्ण फिटनेस टेस्ट में खरा उतरेंगे। क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने जांघ की मांसपेशी में लगी चोट से उबर रहे क्लार्क को अपनी फिटनेस साबित करने के लिए 21 फरवरी तक का समय दिया है।

उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी से शुरू हो रहे आईसीसी विश्व कप में आस्ट्रेलिया को 21 फरवरी को टूर्नामेंट का अपना दूसरा ग्रुप मैच बांग्लादेश के खिलाफ खेलना है। क्लार्क के विश्व कप में खेलने को लेकर इन दिनों कई अटकलें लगाई जा रही हैं। उनके ट्रेनर डंकन केर ने हालांकि कहा कि वह क्लार्क के विश्व कप तक पूरी तरह स्वस्थ होने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे हैं।

समाचार पत्र ‘सिडनी मॉर्निग हेराल्ड’ के अनुसार केर ने कहा, “क्लार्क अपनी कोशिश लगातार जारी रखे हुए हैं और सीए तथा फीजियो द्वारा तय कार्यक्रम के अनुसार वह इसमें सफल होते भी नजर आ रहे हैं।” केर के कहा, “क्लार्क क्रिकेट खेलना जारी रखना चाहते हैं। वह 108 टेस्ट मैच खेल चुके हैं और अपने आखिरी टेस्ट में उन्होंने 128 रन बनाए थे। वह इतने निराशाजनक तरीके से बाहर नहीं हो सकते।”

केर के मुताबिक क्लार्क वापसी के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं और उनकी चोट में उम्मीदों के उलट ज्यादा तेजी से सुधार हो रहा है।