टी20 विश्व कप 2021 (ICC T20I WC 2021) के निराशाजनक अंत के बाद मुंबई टेस्ट (India vs New Zealand, 2nd Test) के जरिए भारतीय टीम से वापस जुड़े विराट कोहली (Virat Kohli) ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 372 रन से बड़ी जीत के साथ शानदार वापसी की। ये पहला मौका था जब कोहली टीम इंडिया के नए कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के साथ काम कर रहे थे। हालांकि कोहली ने कहा कि मैनेजमेंट बदलने के बाद भी उनका लक्ष्य भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने का है।Also Read - ICC ODI Rankings: विराट-रोहित टॉप-3 में बरकरार, डी कॉक-डुसेन ने लगाई बड़ी छलांग

कप्तान ने कहा, “नए मैनेजमेंट के साथ भी भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने की मानसिकता वही है। भारतीय क्रिकेट के मानकों को बनाए रखना और ये सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि वो हमेशा बढ़ता रहे।” Also Read - Happy Republic Day 2022: गणतंत्र दिवस के मौके पर खेल जगत ने दी बधाई, Virat Kohli बोले- भारतीय होने पर गर्व

मैच के बाद कोहली ने कहा, “फिर से जीत के साथ वापस आना, ये एक शानदार एहसास और शानदार ​​प्रदर्शन है। आप चाहते हैं कि हर एक खिलाड़ी आगे बढ़ें। पहला टेस्ट अच्छा था, और वहां भी अच्छा नैदानिक प्रदर्शन किया था। हमने प्रदर्शन पर चर्चा की और विपक्ष ने अच्छा ड्रॉ किया। गेंदबाजों ने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की गई, लेकिन कीवी बल्लेबाजों ने कानपुर में उन्हें बखूबी खेला। यहां उछाल ज्यादा था और तेज गेंदबाजों को भी मदद मिली तो इससे हमें टेस्ट मैच जीतने का बेहतर मौका मिला।” Also Read - BCCI Annual Contracts: पुजारा-रहाणे का 'बी' श्रेणी में जाना तय, शार्दुल-अक्षर को मिलेगा फायदा !

भारतीय कप्तान ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज पर भी बात की। उन्होंने कहा, “दक्षिण अफ्रीका एक अच्छी चुनौती है। हमने पिछली बार इसे इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में अच्छा खेला था, और ऑस्ट्रेलिया में उसका फायदा मिला था।”

उन्होंने आगे कहा, “दक्षिण अफ्रीका एक मुश्किल चुनौती है और हम एक टीम के रूप में वहां जीत हासिल करना चाहते हैं। उम्मीद है कि हम दक्षिण अफ्रीका में उस तरह से खेल सकते हैं जिस तरह से हम जानते हैं कि हम खेल सकते हैं और सीरीज जीत सकते हैं।”