कोरोनावायरस के कारण लगभग 2 महीने से क्रिकेट की सभी गतिविधियां ठप्प है. कोविड-19 महामारी के कारण टोक्यो ओलंपिक से लेकर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें एडिशन को भी टालना पड़ा है. अक्टूबर-नवंबर में आयोजित होने वाले आईसीसी टी-20 विश्व कप पर भी अब संशय के बादल मंडरा रहे हैं. विश्व कप का आयोजन ऑस्ट्रेलिया में होना है. Also Read - चीन में फैली एक और बीमारी! अब मंडराया मानव प्लेग महामारी फैलने का खतरा

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह-उल-हक ने कहा है कि अधिकारियों को जल्दबाजी में टी20 विश्व कप को स्थगित नहीं करना चाहिए क्योंकि स्थिति जब सामान्य होगी तो दर्शकों को दिखाने के लिए यह शानदार आयोजन होगा. Also Read - Covid-19: रूस को पीछे छोड़ दुनिया में कोरोना से तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना भारत

मिस्बाह ने कहा कि हालांकि मौजूदा परिस्थितियों के कारण यात्रा और ठहरने जैसी चीजें बहुत बड़ी चुनौती है लेकिन अधिकारियों को निर्णय लेने से पहले पर्याप्त विचार-विमर्श करना चाहिए. Also Read - दिल्ली में सोमवार से खुलेंगे ऐतिहासिक स्मारक, लेना होगा ऑनलाइन टिकट

’16 टीमों की मेजबानी करना आसान नहीं’

मिस्बाह ने यूट्यूब चैनल क्रिकेटबाज से कहा, ‘लॉजिस्टिक्स के हिसाब से 16 टीमों की मेजबानी करना आसान नहीं होगा, लेकिन अधिकारियों को कोई भी निर्णय लेने से पहले एक महीने या उससे अधिक समय का इंतजार करना चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘हर कोई टी20 विश्व कप देखना चाहता है. एक बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जब गतिविधियां फिर से शुरू होगी तो क्रिकेट के लिए यह सबसे अच्छी चीज होगी.’

ऑस्ट्रेलियाई पूर्व कप्तान मार्क वॉ बोले-मुझे नहीं लगता कि आयोजन हो पाएगा 

उधर, पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मार्क टेलर को नहीं लगता कि अक्टूबर-नवंबर में टी20 विश्व कप का आयोजन हो पाएगा और वह चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) इस हफ्ते अपनी बोर्ड बैठक में इस पर फैसला करे.

टेलर को यह भी लगता है कि अगर टी20 विश्व कप की विंडो के दौरान इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन होता है तो ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को भारत में होने वाली इस लुभावनी लीग में हिस्सा लेने के लिए उनके बोर्ड से मंजूरी मिल जाएगी.