कोरोनावायरस के कारण इस समय क्रिकेट की सभी गतिविधियां ठप्प हैं.  खिलाड़ी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं.  भारत सहित कई देशों में लॉकडाउन घोषित है.  इस दौरान शरारती तत्व भी लोगों को काफी परेशान कर रहे हैं.  भारतीय टेस्ट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि कुछ शरारती तत्वों ने इस खिलाड़ी के सिलीगुड़ी स्थित पूर्वाजों के घर में शुक्रवार रात चोरी की कोशिश की. Also Read - भारतीय टीम को बड़ी राहत, WTC फाइनल से पहले क्वारंटीन के दौरान प्रैक्टिस की इजाजत

‘विराट कोहली में है वो 3 चीजें जिसके दम पर तोड़ सकते हैं अपने आदर्श के रिकॉर्ड’ Also Read - भारत-न्यूजीलैंड के बीच होने वाला WTC फाइनल मैच देखने इंग्लैंड जाएंगे BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली

साहा दक्षिण कोलकाता में अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रहते हैं जबकि उनके माता-पिता उत्तरी बंगाल, सिलीगुड़ी में शक्ती गढ़ के वार्ड नंबर-31 में रहते हैं. Also Read - Veda Krishnamurthy पर टूटा दुखों का पहाड़, मां के बाद कोरोना ने छीनी अब बहन की जिंदगी

साहा के रिश्तेदार ने आईएएनएस से कहा, ‘हम उनके घर के पास रहते हैं.  शुक्रवार की सुबह के समय मेरे बेटे ने एक आवाज सुनी और हमें बताया.  यह तकरीबन 2-2:30 बजे का समय होगा.  हम तुरंत बाहर गए और लाइट जलाई.  वह हमारी आवाज सुनकर भाग गए.  उनके पास कार थी लेकिन हम कार को साफ तरीके से देख नहीं सके. ‘

उन्होंने कहा, ‘हमने पुलिस को बताया और वह तुरंत यहां पहुंची.  वह कल भी दिन में यहां आए थे.  ऐसा ही मामला कुछ दिन पहले भी हुआ था.  तब हमने गौर नहीं किया था. ‘

कहर कोरोना का: कोहली-डीविलियर्स का बड़ा फैसला-IPL के इस ऐतिहासिक बल्ले को करेंगे नीलाम

उन्होंने हालांकि अभी तक एफआईआर नहीं कराई है.  उन्होंने कहा, ‘हम रविवार को एफआईआर कराएंगे.  पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि वह एनजेपी पुलिस स्टेशन में आएंगे तब हम एफआईआर करेंगे. ‘ साहा के माता-पिता लॉकडाउन होने से पहले उनके घर गए थे और अब तक वापस सिलीगुड़ी नहीं आ सके हैं.

साहा ने भारत की ओर से 37 टेस्ट मैच खेले हैं। न्यूजीलैंड दौरे पर रिषभ पंत को साहा की जगह तरजीह दी गई  थी.