कोरोनावायरस के कारण इस समय क्रिकेट की सभी गतिविधियां ठप्प हैं.  खिलाड़ी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं.  भारत सहित कई देशों में लॉकडाउन घोषित है.  इस दौरान शरारती तत्व भी लोगों को काफी परेशान कर रहे हैं.  भारतीय टेस्ट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि कुछ शरारती तत्वों ने इस खिलाड़ी के सिलीगुड़ी स्थित पूर्वाजों के घर में शुक्रवार रात चोरी की कोशिश की. Also Read - IND vs AUS: ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर एक ही वेन्‍यू पर हो सकते हैं सभी मैच, CA ने कहा-हम...

‘विराट कोहली में है वो 3 चीजें जिसके दम पर तोड़ सकते हैं अपने आदर्श के रिकॉर्ड’ Also Read - 'मेरे लिए क्रिकेट के डॉन हैं MS Dhoni, इन्हें पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है'

साहा दक्षिण कोलकाता में अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रहते हैं जबकि उनके माता-पिता उत्तरी बंगाल, सिलीगुड़ी में शक्ती गढ़ के वार्ड नंबर-31 में रहते हैं. Also Read - ICC Meeting: टी20 विश्‍व कप 2020 के भविष्‍य को लेकर फैसला 10 जून तक स्‍थगित

साहा के रिश्तेदार ने आईएएनएस से कहा, ‘हम उनके घर के पास रहते हैं.  शुक्रवार की सुबह के समय मेरे बेटे ने एक आवाज सुनी और हमें बताया.  यह तकरीबन 2-2:30 बजे का समय होगा.  हम तुरंत बाहर गए और लाइट जलाई.  वह हमारी आवाज सुनकर भाग गए.  उनके पास कार थी लेकिन हम कार को साफ तरीके से देख नहीं सके. ‘

उन्होंने कहा, ‘हमने पुलिस को बताया और वह तुरंत यहां पहुंची.  वह कल भी दिन में यहां आए थे.  ऐसा ही मामला कुछ दिन पहले भी हुआ था.  तब हमने गौर नहीं किया था. ‘

कहर कोरोना का: कोहली-डीविलियर्स का बड़ा फैसला-IPL के इस ऐतिहासिक बल्ले को करेंगे नीलाम

उन्होंने हालांकि अभी तक एफआईआर नहीं कराई है.  उन्होंने कहा, ‘हम रविवार को एफआईआर कराएंगे.  पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि वह एनजेपी पुलिस स्टेशन में आएंगे तब हम एफआईआर करेंगे. ‘ साहा के माता-पिता लॉकडाउन होने से पहले उनके घर गए थे और अब तक वापस सिलीगुड़ी नहीं आ सके हैं.

साहा ने भारत की ओर से 37 टेस्ट मैच खेले हैं। न्यूजीलैंड दौरे पर रिषभ पंत को साहा की जगह तरजीह दी गई  थी.