ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर मिशेल मार्श ने घरेलू शेफील्ड शील्ड टूर्नामेंट में मैच के दौरान ड्रैसिंग रूम में दीवार पर मुक्का मारने के अपने व्यवहार पर माफी मांगी है. वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के लिए खेल रहे मार्श ने तस्मानिया के खिलाफ आउट होने के बाद अपना गुस्सा जाहिर करते हुए दीवार पर मुक्का मारा था. इससे उनके हाथ में भी चोट आई.

पढ़ें:- टेस्‍ट सीरीज के बाद मैं मैनेजमेंट से अपने टी20 करियर को लेकर बात करूंगा: कुलदीप यादव

स्कैन से पता चला है कि उनका दाहिना हाथ चोटिल है और वह चार से छह सप्ताह के लिए मैदान से दूर रहेंगे. इसका साफ मतलब है कि वह ग्रीष्मकाल की शुरुआत में होने वाले टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाएंगे और जब वह वापसी करेंगे तो यह भी पक्का नहीं होगा कि वह अपनी जगह आसानी से वापस हासिल कर सकेंगे या नहीं.

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने मार्श के हवाले से लिखा है, “यह निश्चित तौर पर पहली बार हुआ है, यह पक्का है और यह दोबारा नहीं होगा. यह मेरे लिए अच्छी सीख है. उम्मीद है कि यह बाकी के लोगों के लिए भी एक अच्छी सीख होगी.”

पढ़ें:- टिम पेन का समय खत्म होने के बाद स्टीव स्मिथ को दोबारा कप्ताना बनाना चाहिए : रिकी पोंटिंग

उन्होंने कहा, “अंत में यह क्रिकेट है. कई बार आप हार जाते हो, कई बार आप आउट हो जाते हो लेकिन आप दीवार में पंच नहीं मारते.”

मार्श ने जब दीवार में पंच मारा तब वह ग्लव्स पहने हुए थे. उन्होंने अपनी टीम वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों से भी माफी मांगी है. उन्होंने अपनी टीम से कहा, “मैं बेहद निराश हूं.”