नई दिल्ली. सीरीज पहले ही अपने नाम करके आत्मविश्वास से भरी भारतीय महिला क्रिकेट टीम गुरुवार को इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले तीसरे और आखिरी वनडे में जीत के साथ मेहमान टीम का सूपड़ा साफ करने के इरादे से उतरेगी. मिताली राज की अगुआई वाली भारतीय टीम ने पहले वनडे मैच में विश्व चैंपियन इंग्लैंड को 66 रन से हराने के बाद दूसरे मैच में सात विकेट से हराते हुए सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त लिए हुए है.

बड़ी बात ये है कि भारत ने आईसीसी महिला चैंपियनशिप में चार अहम अंक हासिल किए हैं जिससे 2021 विश्व कप में सीधे क्वालीफाई करने की उसकी उम्मीदों को फायदा मिल सकता है.भारत के पास दो और अंक हासिल करने का मौका है. तीसरे वनडे के लिए भारत अपने विनिंग कॉम्बिनेशन में कोई छेड़छाड़ नहीं करना चाहेगा.

सलामी बल्लेबाज और आईसीसी की साल की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी स्मृति मंधाना बेहतरीन फार्म में हैं। दूसरे मैच में उनके 63 रन की बदौलत भारत ने श्रृंखला में विजयी बढ़त बनाई. वनडे क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाली अनुभवी मिताली ने पिछले दो मैचों में 44 और 47 रन की प्रभावी पारियां खेली. स्मृति और कप्तान मिताली अपनी इस फार्म को अंतिम वनडे में भी बरकरार रखना चाहेंगी.