भारतीय महिला क्रिकेट की स्टार खिलाड़ी मिताली राज ने कल से शुरू होने वाले टी20 विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलया को सबसे मजबूत दावेदार बताया है। हालांकि वनडे टीम की कप्तान के मुताबिक भारत भी कमजोर नहीं है। Also Read - 'कोरोना वायरस को जैविक हथियार बनाकर युद्ध लड़ना चाहता था चीन, 2015 में किया था टेस्ट'

आईसीसी के अपने कॉलम में मिताली ने लिखा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगा लेकिन भारत भी कमजोर नहीं है। हमारे पास कुछ बेहद प्रतिभावान खिलाड़ी हैं और मुझे लगता है कि ये काफी करीबी मुकाबला होगा और इसमें काफी रन बनेंगे।” Also Read - कोरोना टीके पर जीएसटी हटाने से इनकार, वित्त मंत्री बोलीं- ऐसा करने से महंगी होगी दवा

मिताली ने कहा, ‘‘दोनों टीमों के पास कुछ शानदार खिलाड़ी हैं, खासकर बल्लेबाजी क्रम में और ये इस पर निर्भर करेगा कि उस दिन अपने देश के लिए जरूरी रन कौन बनाता है। ऑस्ट्रेलिया के टी20 रिकार्ड के कारण वे फायदे की स्थिति में हैं और भारत के खिलाफ पहला मैच जीतने की उनकी संभावना कुछ बेहतर है।’’ Also Read - Haryana Lockdown Update: हरियाणा में एक सप्ताह के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन, जारी रहेंगी सख्त पाबंदियां: दिशानिर्देश जारी करेगी सरकार

महिला क्रिकेट को मिल रही है लोकप्रियता

मिताली का मानना है कि महिला क्रिकेट में सबसे बड़ा बदलाव ये आया है कि महिला खिलाड़ी भी अब युवा खिलाड़ियों के लिए आदर्श बनकर उभर रही हैं। मिताली ने 1999 में जब खेलना शुरू तो महिला क्रिकेट अधिक लोकप्रिय नहीं था जबकि शुक्रवार को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले टी20 विश्व कप के पहले मैच के लिए स्टेडियम के खचाखच भरा होने की उम्मीद है।

IPL 2020 टूर्नामेंट से पहले होने वाले ऑल स्टार मैच रद्द

भारत इस इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘हमारे दिनों में, प्रेरणा के लिए सिर्फ पुरुष खिलाड़ी होते थे क्योंकि हमें टेलीविजन पर उन्हें ही खेलते हुए देखने को मिलता था। आज एक युवा लड़की महिला क्रिकेटर को आदर्श बना सकती है और मुझे लगता है कि ये सबसे बड़ा बदलाव है जो मैंने देखा है।’’