कोरोनावायरस के कारण खेलों की दुनिया भी पिछले कुछ महीनों से ठप्प है. कोविड-19 के 117 दिन बाद हाल में इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हुई है. इस समय मेजबान इंग्लैंड और विंडीज के बीच 3 मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा है. इसकी शुरुआत दो दिन पहले ही हुई है. भारतीय कप्तान मिताली राज को लगता है कि इस  महामारी के कारण लगे ब्रेक ने शायद महिला क्रिकेट के विकास को कम से कम दो साल पीछे धकेल दिया होगा.Also Read - Booster Dose: कोरोना के बूस्टर डोज को लेकर WHO की तरफ से आया यह बयान...

‘पूर्ण आईपीएल अब भी तीन साल दूर’ Also Read - Jammu Kashmir: बर्फ से ढके पहाड़ों पर 7-8 घंटे पैदल चलकर लगाने जाते हैं कोरोना वैक्सीन, तस्वीरें देख स्वास्थ्यकर्मियों को करेंगे सलाम!

भारतीय महिला वनडे कप्तान और 50 ओवर क्रिकेट में दुनिया की सर्वाधिक रन जुटाने वाली खिलाड़ी मिताली ने यह भी कहा कि पूर्ण आईपीएल अब भी तीन साल दूर है, हालांकि चैलेंजर्स सीरीज के लिए चौथी टीम जोड़ी जा सकती है. Also Read - IND vs SA: तीनों फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ चुके Virat Kohli, इंग्लैंड ने पूर्व कप्तान ने बताई 'वजह'

मिताली ने एक वेबिनार के दौरान कहा, ‘दुर्भाग्य से महिला क्रिकेट इस महामारी के कारण दो साल पीछे चला जाएगा क्योंकि भारत की विश्व कप 2017 और विश्व टी20 2020 में सफलता से जो लय बनी थी, वह बेकार चली गई.’

‘महिला राष्ट्रीय टीम के लिए कैलेंडर के संबंध में बीसीसीआई अधिकारियों से बातचीत की थी’

उन्होंने कहा कि महिला राष्ट्रीय टीम के लिए कैलेंडर के संबंध में बीसीसीआई अधिकारियों से बातचीत की थी. 37 साल की इस खिलाड़ी ने कहा, ‘हालांकि हमने बीसीसीआई से भारतीय महिला टीम के लिए निश्चित कैलेंडर बनाने पर चर्चा की थी ताकि प्रशसंक टीम के लिए नियमित तौर पर उत्साहवर्धन करते रहें.’

बकौल मिताली, ‘योजना निश्चित रूप से बाधित हुई है, लेकिन हमें भरोसा है कि हम तेजी से इसे बना सकते हैं. मुझे लगता है कि महिलाओं का पूर्ण आईपीएल अब भी दो-तीन साल दूर है लेकिन हम निश्चित रूप से महिला चैलेंज टूर्नामेंट में चौथी टीम शामिल करना चाहेंगे जो आईपीएल के साथ साथ खेला जाता है.’