नई दिल्ली: पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए इंग्लैंड की टीम से बाहर किये गए ऑलराउंडर मोईन अली ने कहा कि आईपीएल में खेलने से वह वनडे के बेहतर खिलाड़ी बनेंगे और उनके खेल में सुधार होगा. मोईन ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने वास्तव में अपने खेल पर मेहनत की है और मैं आरसीबी और इंग्लैंड की तरफ से भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करने के प्रति आश्वस्त हूं. उम्मीद है कि इससे मुझे वनडे का बेहतर खिलाड़ी बनने में मदद मिलेगी. उम्मीद है कि इससे मेरे खेल में सुधार होगा.’’ Also Read - इंग्लिश ऑलराउंडर ने MS Dhoni के जज्बे पर उठाए सवाल, वर्ल्ड कप में हार का ठीकरा इन 3 भारतीयों के सिर फोड़ा

Also Read - ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा- मैं स्टीव स्मिथ को विराट कोहली से आगे रखूंगा, जानिए वजह

मोईन की 34 गेंदों पर 65 रन की पारी से रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने कल सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जीवंत रखा है. इसके अलावा उन्होंने दो विकेट भी लिए. आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने भी उनकी तारीफ की और कहा कि इंग्लैंड के इस खिलाड़ी के आने से टीम में संतुलन पैदा हुआ है. कोहली ने कहा, ‘‘मोईन ने हमारे लिये बहुत अच्छी भूमिका निभायी है. उन्होंने तीन मैचों में बहुत अच्छी गेंदबाजी की और आज की उनकी पारी बेजोड़ थी.’’ Also Read - शोएब अख्तर ने कहा- कट या पुल शॉट नहीं खेल पाते हैं विराट कोहली

बसील थम्पी की वजह से हारा हैदराबाद, गेंदबाज के नाम दर्ज हुआ बेहद शर्मनाक रिकॉर्ड

गौरतलब है कि आरसीबी के इस दिग्गज खिलाड़ी का यह पहला आईपीएल सीजन है. मोईन को आरसीबी ने 1.70 करोड़ रुपये में खरीदा है. इस सीजन में उन्होंने 4 मैच खेले हैं. इस दौरान 76 रन बनाने के साथ ही 3 विकेट भी अपने नाम किए हैं. मोईन का गेंदबाजी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1 विेकेट लेकर 13 रन देना रहा है. अगर इनके इंटरनेशनल करियर पर नजर डालें तो वह काफी प्रभावी रहा है. उन्होंने 22 इंटरनेशनल टी-20 मैचों में 202 रन बनाने के साथ ही 14 विकेट भी हासिल किए हैं.

RCB की जीत में चमका यह खिलाड़ी, विराट कोहली हुए फैन

बता दें कि विराट कोहली की कप्तानी में आरसीबी ने इस सीजन में अब तक 13 मैच खेले. इस दौरान उसने 6 मैचों में जीत हासिल की, जबकि 7 मैचों में हार का सामना किया है. आरसीबी इस समय पॉइंट टेबल में 5वें स्थान पर है. हैदराबाद को इस मैच में हराने के बाद टीम के प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना बढ़ गई है. हालांकि अब देखना यह होगा कि हैदराबाद और चेन्नई के अलावा कौन सी टीम को प्लेऑफ में जगह मिलती है.