एक साल पहले टीम इंडिया के बल्लेबाज रोहित शर्मा ने पाकिस्तानी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को ‘साधारण गेंदबाज’ करार दिया था. एक साल बाद चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में आमिर ने रोहित, कोहली और शिखर धवन को आउट करके पाकिस्तान को खिताब जिताने में अहम भूमिका निभाई. रोहित के उस बयान का जवाब आमिर ने एक साल बाद अब दिया है और कहा है कि हर किसी की अपनी राय होती है और उनका काम पाकिस्तान के लिए अच्छा प्रदर्शन करना है.

रोहित ने टी20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान मैच से पहले आमिर के बारे में बयान दिया था. दरअसल इसके कुछ ही दिन पहले आमिर ने एशिया कप के मैच में रोहित समेत तीन टॉप भारतीय बल्लेबाजों को सस्ते में आउट कर दिया था. रोहित ने कहा था, ‘उनको (आमिर) लेकर बहुत हाइप बनाई जा रही है. सिर्फ एक मैच के बाद उन्हें इतनी हाइप दिया जाना सही नहीं है. लोग उनकी तुलना वसीम अकरम से कर रहे हैं, वह एक साधारण गेंदबाज हैं. किसी एक दिन अच्छी गेंदबाजी का मतलब ये नहीं है कि वह सभी को आउट कर सकते हैं.’

अब एक साल बाद आमिर ने रोहित के उस बयान का जवाब देते हुए कहा, ‘ये मेरी चिंता नहीं है. मैं अपना ध्यान सिर्फ अपने प्रदर्शन पर रखता हूं. अगर मैं अपने बारे में दूसरों की राय को लेकर चिंतित होऊंगा तो इससे मेरा तनाव ही बढ़ेगा. इसलिए मैं इससे बचता हूं.’

आमिर ने कहा, ‘हर किसी को अपनी राय देने का हक है, फिर चाहे किसी क्रिकेटर को वर्ल्ड क्लास बताना हो या साधारण, ये उस व्यक्ति पर निर्भर करता है.’ लेकिन आमिर ने स्पष्ट कर दिया कि वह कभी भी रोहित को साधारण नहीं कहेंगे. आमिर ने कहा, ‘ये उनकी मेरे बारे में राय थी, उन्हें अपनी राय देने का हक है. शायद अब मेरे बारे में उनकी राय बदल गई हो. लेकिन एक चीज मैं स्पष्ट कर दूं, मैं कभी भी उन्हें एक साधारण बल्लेबाज नहीं कहूंगा.’

उन्होंने कहा, ‘वास्तव में मैं उन्हें असाधारण बल्लेबाज कहूंगा, भारत के लिए उनका रिकॉर्ड शानदार है, मैं उनका सम्मान करता हूं. दूसरे क्रिकेटरों के बारे में उनकी अपनी राय है. लेकिन मैं कभी भी इस बात की परवाह नहीं करता कि दूसरे क्रिकेटर मेरे बारे में क्या सोचते हैं.’

आमिर ने पिछले महीने हुए चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में रोहित शर्मा को आउट किया था.