नई दिल्ली: मोहम्मद अनस ने चेक गणराजय में चल रही क्लादनो एथलेटिक्स प्रतियोगिता की पुरुष 400 मीटर स्पर्धा में अपने राष्ट्रीय रिकॉर्ड को बेहतर करते हुए स्वर्ण पदक जीता और विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया, जबकि महिलाओं की 200 मीटर स्पर्धा में हिमा दास ने दो हफ्तों से भी कम समय में तीसरा स्वर्ण पदक हासिल किया.24 साल के अनस ने शनिवार रात को 45.21 सेकेंड के समय से पहला स्थान प्राप्त किया, वह पोलैंड के रजत पदक विजेता ओमेलको रफाल (46.19) से एक सेकेंड आगे रहे. अनस ने पिछले साल 45.24 सेकेंड के राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया था, उन्होंने इसे तोड़ते हुए 27 सितंबर से 6 अकटूबर के बीच दोहा में चलने वाली विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के लिए क्वालीफाई किया. Also Read - International Sprinter Hima Das असम पुलिस में DSP पद पर नियुक्त, वर्दी में यूं आईं नजर

पुरुषों की 400 मीटर रेस के लिए विश्व चैंपियनशिप  क्वालीफाइंग समय 45.30 सेकेंड का था. महिलाओं की 200 मीटर रेस में हिमा ने 23.43 सेकेंड के समय से स्वर्ण पदक जीता, उनका व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 23.10 सेकेंड का है. इस तरह 11 दिन के अंदर यह हिमा का तीसरा अंतरराष्ट्रीय स्वर्ण पदक है. Also Read - असम सरकार ने हिमा दास को बनाया DSP, किरेन रीजीजू का ट्वीट- बहुत बढ़ि‍या...

साल की पहली प्रतिस्पर्धी 200 मीटर रेस में 19 साल की असम की धाविका ने दो जुलाई को पोंजनान एथलेटिक्स ग्रां प्री में 23.65 सेकेंड के समय से स्वर्ण पदक जीता था. इसके बाद उन्होंने सात जुलाई को पोलैंड में ही हुई कुंटो एथलेटिक्स प्रतियोगिता में 200 मीटर स्पर्धा में 23.97 सेकेंड से दूसरा स्वर्ण पदक जीता. भारत के विपिन कासना, अभिषेक सिंह और देविंदर सिंह कांग ने पुरुष भाला फेंक फाइनल में क्रमश: 82.51 मीटर, 77.32 मीटर और 76.58 मीटर की दूरी से शीर्ष तीन स्थान हासिल किए. Also Read - फर्राटा क्वीन हिमा दास खेल रत्न के लिए नामित होने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बनीं

पुरुषों की चक्का फेंक स्पर्धा में राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी तेजिंदर पाल सिंह तूर ने कांस्य जीतने के लिए 20.36 मीटर का थ्रो फेंका. उनका राष्ट्रीय रिकॉर्ड 20.75 मीटर का है. महिलाओं की 400 मीटर स्पर्धा में वी के विस्मया ने 52.54 सेकेंड के अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से रेस जीत ली. सरिताबेन गायकवाड़ 53.37 सेकेंड के समय से तीसरे स्थान पर रहीं.

इस बीच किर्गिस्तान के बिश्केक में अंतरराष्ट्रीय स्मृति प्रतियोगिता में भारतीयों ने छह स्वर्ण, तीन रजत और एक कांस्य भी जीता. राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी एम श्रीशंकर ने लंबी कूद स्पर्धा में 7.97 मीटर की कूद से जीत दर्ज की.

अर्चना 100 मीटर (11.74 सेकेंड) में, हर्ष कुमार 400 मीटर (46.76 सेकेंड) में, लिली दास 1500 मीटर (4: 19.05) में, भाला फेंक में साहिल सिलवाल (78.50 मीटर) और महिलाओं की 4×100 रिले टीम (45.81 सेकेंड) स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहे.

राहुल (1500 मीटर; 3: 50.69), जिस्ना मैथ्यू (400 मीटर, 53.76) और गजानंद मिस्त्री (400 मीटर, 47.23) ने रजत पदक जीते, जबकि रोहित यादव ने भाला फेंक (73.33 मीटर) में कांस्य पदक जीता.