नई दिल्ली: पाकिस्तान के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को अपने नियमों में बदलाव करना चाहिए जिससे कि ‘दूसरा’ खेल का हिस्सा बना रहे. हफीज ने पाकिस्तान सुपर लीग के इतर कहा, ‘‘अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में लेग स्पिनरों की सफलता देखकर अच्छा लग रहा है. लेकिन मेरा अब भी मानना है कि दूसरा के मामले में कुछ होना चाहिए.’’ Also Read - South Africa vs Pakistan 2021 1st odi Dream11 Team Prediction: साउथ अफ्रीका vs पाकिस्तान का पहला वनडे मैच आज, यह है ड्रीम टीम

Also Read - मोहम्‍मद आसिफ ने Waqar Younis पर लगाए गंभीर आरोप, 'पूरे करियर में चीटिंग करके प्राप्‍त की रिवर्स स्विंग'

उन्होंने कहा, ‘‘सईद अजमल और सकलेन मुशताक ने हमें काफी रोमांच दिया है. यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां आईसीसी को ध्यान देना ही चाहिए. नियमों में कुछ विस्तार. दूसरा क्रिकेट का हिस्सा होना चाहिए, इसे इससे अलग नहीं करना चाहिए.’’ Also Read - जून में खेले जाएंगे पाकिस्तान सुपर लीग के बचे मैच; कराची में होगा आयोजन

रैना ने बताया क्यों टी-20 है सिर्फ छह ओवर्स का खेल

शीर्ष क्रम के बल्लेबाज और प्रभावी ऑफ स्पिनर हफीज के खिलाफ अतीत में एक से अधिक बाद संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन की शिकायत की गई और फिलहाल वह आईसीसी प्रतियोगिताओं में गेंदबाजी नहीं कर सकते. हफीज ने कहा कि वह विश्व क्रिकेटर में लेग स्पिनरों के उभरने से हैरान नहीं हैं और उनका मानना है कि यह विकेट हासिल करने का शानदार विकल्प है.

चैंपियन्स ट्रॉफी के फाइनल में भारत को हराने के बाद से पाकिस्तान के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी दिखी. टीम हाल में न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला 0-5 से हार गई लेकिन पिछले महीने इसी टीम को टी20 श्रृंखला में हराया. श्रीलंका ने भी पिछले साल अक्तूबर में दो मैच की श्रृंखला में पाकिस्तान को 2-0 से हराया था.

मिताली राज ने जताया भरोसा, महिला विश्वकप में भारतीय टीम का प्रदर्शन चौंकाने वाला होगा

इन हार के बारे में पूछने पर हफीज ने कहा कि चोटों के कारण कई अहम खिलाड़ियों के बाहर होने के कारण न्यूजीलैंड में टीम को शर्मनाक शिकस्त का सामना करना पड़ा. हफीज ने कहा, ‘‘उस्मान खान शिनवारी जैसे हमारे कुछ गेंदबाज चोटिल होने के कारण नहीं खेल पाए. वह उभरता हुआ स्टार है और उसने श्रीलंका के खिलाफ हमारे लिए काफी अच्छा प्रदर्शन किया.’’