हार्दिक पांड्या ने बहुत कम समय में टीम इंडिया में अपनी जगह बतौर ऑलराउंडर पक्की की है. लंबे-लंबे छक्के जड़ने में माहिर पांड्या अपनी मध्यम गति की गेंदबाजी से भी अहम समय में टीम को ब्रेक थ्रू दिलाने में अहम भूमिका निभाते हैं. हार्दिक के बारे में टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ का कहना है कि पांड्या में बेहतरीन ऑलराउंडर बनने की क्षमता है लेकिन इसके लिए उन्हें अपनी फिटनेस पर ध्यान देना होगा. Also Read - Prithvi Shaw में दूसरा Virender Sehwag बनने की क्षमता: पूर्व चयनकर्ता

हाल में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने वाल कैफ ने सोशल मीडिया ‘हेलो’ ऐप के लाइव चैट शो में ये बात कही. 39 वर्षीय कैफ ने कहा, ‘हार्दिक पांड्या काफी कमाल कर सकते हैं, बस उन्हें ऑलराउंडर के तौर पर फिटनेस पर ध्यान देना होगा.’ Also Read - अगर बॉलिंग नहीं कर सकते Hardik Pandya तो छोटे फॉर्मेट में भी फिट नहीं: पूर्व सिलेक्टर

कैफ ने कहा कि अजय जडेजा, युवराज सिंह और मोहम्मद अजहरुद्दीन की फील्डिंग कमाल की रही. उन्होंने कहा कि रॉबिन सिंह भी अच्छे फील्डर और फिनिशर थे. उन्होंने कहा कि विराट कोहली भी बेहतरीन फील्डर हैं. जबकि डाइव लगाने के मामले में एबी डीविलियर्स शानदार हैं. Also Read - Tim Paine पर भड़के Saba Karim, बोले- यह बयान 'बचकाना' नहीं बल्कि बड़ी 'बेवकूफी'

कैफ की नजर में चैपल की जगह राइट थे बेस्ट कोच

यह पूछने पर कि ग्रेग चैपल और जॉन राइट में से बेस्ट कोच कौन है? इस पर कैफ ने राइट का नाम लिया. उन्होंने कहा, ‘ ग्रेग चैपल में बल्लेबाजी प्रतिभा को निखारने की क्षमता थी और उस समय सुरेश रैना से युवा उन्हें पसंद करते थे लेकिन उनमें अहम की समस्या थी.’

39 वर्षीय कैफ ने भारत की ओर से 13 टेस्ट और 125 वनडे इंटरनेशनल मैच खेले हैं. उन्होंने टेस्ट मैचों में एक शतक के साथ कुल 624 रन बनाए हैं जबकि वनडे में 2 शतकों के साथ उनके नाम 2753 रन दर्ज हैं.