नई दिल्ली. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भारतीय क्रिकेट ही नहीं वर्ल्ड क्रिकेट में भी अपनी फिटनेस के लिए जाने-जाते हैं. खुद को फिट रखने के लिए कोहली तरह-तरह की तरकीबें आजमाते हैं. लेकिन, अफगानिस्तान के बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद विराट कोहली के फिटनेस फॉर्मूले को भाव नहीं देते दिख रहे हैं. दरअसल, कद-काठी से छोटे और दिखने में मोटे लगने वाले मोहम्मद शहजाद के लिए फिटनेस का मतलब खाने और सोने से है, जिसे वो अपनी जिंदगी से नजरअंदाज नहीं करना चाहते. Also Read - विदेश में सर्वाधिक सेंचुरी जड़ने के मामले में भारतीय क्रिकेटर्स टॉप पर, सचिन नंबर वन तो कोहली नंबर टू

Also Read - कोहली-स्मिथ जैसा बल्लेबाज बनने के करीब हैं बाबर आजम : मिसबाह उल हक

T10 लीग में मचाया धमाल Also Read - विराट कोहली ने महान हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर के निधन पर जताया दुख, भज्जी ने कुछ इस तरह से किया याद

शहजाद ने T10 लीग में 16 गेंदों पर 74 रन की धमाकेदार पारी खेली. करीब 463 की स्ट्राइक रेट से खेली इस पारी में शहजाद ने 8 छक्के और 6 चौके लगाए और अपनी राजपुत टीम को सिंधी के खिलाफ सिर्फ 24 गेंदों पर ही जीत दिला दी.

धोनी के ‘फैन’ मोहम्मद शहजाद ने T10 लीग में 16 गेंदों पर ठोके 74 रन, 16 मिनट में किया गेम ओवर

इस धमाकेदारी पारी के बाद शहजाद से जब उनकी फिटनेस को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा,”मेरे लिए कोहली की तरह खुद को फिट रखना संभव नहीं है.” शहजाद ने आगे कहा, ” जितने लंबे छक्के कोहली मारते हैं, मैं उनसे ज्यादा मार सकता हूं. जरुरत क्या है उनकी तरह इतना डायट करने की. ”

मोटे कद का बल्लेबाजी पर नहीं जोर!

शहजाद का वजन ज्यादा जरूर है लेकिन वो उतने ही फुर्तीले भी हैं. क्रिकेट के शॉर्टर फॉर्मेट में वो अफगानिस्तान स्टार बल्लेबाज हैं. इंटरनेशनल T20 में वो अफगानिस्तान के लिए करीब 135 की स्ट्राइक रेट से 65 मैचों में 1936 रन बना चुके हैं, जिसमें उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 118 रन का रहा है. और, अब T10 लीग में उनके बल्ले के विस्फोट ने भी ये साफ कर दिया है उनके मोटे शरीर और बढ़े वजन से उनकी बल्लेबाजी का कोई लेना देना नहीं है.