दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट मैच में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की दूसरी पारी में की गई धारदार गेंदबाजी को नहीं भुलाया जा सकता। शमी ने पहले टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन मेहमान टीम के बल्लेबाजों को जमकर छकाया एक-एक कर उन्हें सस्ते में पवेलियन भेज दिया।

Vijay Hazare Trophy 2019 : त्रिपुरा को हरा तमिलनाडु ने लगातार छठी जीत दर्ज की

शमी के मैच के आखिरी दिन लिए गए पांच विकेट की मदद भारत ने दक्षिण अफ्रीका को उसकी दूसरी पारी में 191 रन पर ऑलआउट कर 203 रन से मैच जीत लिया.

शमी ने टेम्बा बावुमा, फाफ डु प्लेसिस और पहली पारी के शतकधारी क्विंटन डी कॉक को जल्दी-जल्दी आउट कर भारत को जीत की दहलीज पहुंचाया.

निचले क्रम में डेन पीट ने 107 गेंदों पर 56 रन की पारी खेली. उन्होंने सेनुरान मुतुसामी (49) के साथ नौवें विकेट के लिए 91 रन की साझेदारी कर टीम के कुछ उम्मीदें जगाई थी.

लेकिन शमी ने फिर पीट को भी बोल्ड कर भारत को महत्वूपर्ण सफलता दिलाई. शमी ने जब पीट को बोल्ड किया तो स्टंप भी टूट गया. उन्होंने पांच विकेटों में से चार विकेट बोल्ड करके हासिल किया.

China Open Tennis 2019 : नाओमी ओसाका ने लगातार दूसरा खिताब जीता

बाद में बीसीसीआई ने अपने इंस्टाग्राम पर शमी की एक फोटो पोस्ट की, जिसमें शमी टूटे हुए विकेट के साथ पोज देते दिखाई रहे हैं.

29 वर्षीय शमी ने 2018 के बाद तीसरी बार एक पारी में पांच या उससे ज्यादा विकेट लिए हैं, जोकि किसी भी गेंदबाज द्वारा लिया गया सबसे ज्यादा विकेट हैं. टेस्ट क्रिकेट में दूसरी पारी के स्पेशलिस्ट माने जाने वाले शमी ने टेस्ट क्रिकेट में 5वीं बार एक पारी में पांच विकेट लेने का कारनामा किया है.

23 साल में पहली बार हुआ ऐसा …

23 साल में पहली बार किसी भारतीय तेज गेंदबाज ने भारत में टेस्ट मैच की चौथी पारी में पांच विकेट लेने की उपब्धि हासिल की है. शमी से पहले जवागल श्रीनाथ ने 1996 में अहमदाबाद में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह कारनामा किया था.

शमी को दूसरी पारी का स्पेशलिस्ट इसलिए माना जाता है क्योंकि उन्होंने 16 पहली पारियों में 23 विकेट लिए हैं जबकि 15 दूसरी पारी में उनके नाम 40 विकेट दर्ज हो गए हैं.