नई दिल्ली. सिर्फ 4 ओवर के अंदर न्यूजीलैंड को 2 झटके दिए. 20 रन के अंदर कीवी ओपनर्स को पवेलियन के अंदर पहुंचा दिया. ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीत के बाद न्यूजीलैंड के नए अभियान पर भला इससे बेहतर आगाज और क्या हो सकता था. टीम के सबसे सीनियर गेंदबाज होने के नाते मोहम्मद शमी ने इसे बखूबी अंजाम दिया. शमी ने न सिर्फ अपनी टीम को नेपियर वनडे में ये जोरदार शुरुआत दिलाई बल्कि इसके साथ साथ खुद के वनडे करियर में एक बड़े मुकाम को हासिल किया और नया कीर्तिमान भी स्थापित किया. Also Read - BCCI के नए टेस्ट में फेल हुए 6 क्रिकेटर; संजू सैमसन, इशान किशन समेत कई बड़े नाम शामिल

शमी का नया कीर्तिमान Also Read - Mohammed Shami ने चोट के बाद NSA में शुरू की प्रैक्टिस, इस मुकाबले से होगी वापसी !

टॉस जीतकर न्यूजीलैंड उतरी तो इस उम्मीद के साथ की भारत को बड़ा लक्ष्य देगी. लेकिन उसकी इस उम्मीद का सामना जब मोहम्मद शमी की रफ्तार से हुआ तो तोते उड़ गए. शमी ने अपने पहले ओवर में मार्टिन गुप्टिल की गिल्लियां बिखेरी. फिर दूसरे ओवर में आए तो कॉलिन मुनरो को क्लीन बोल्ड कर दिया. और, हासिल कर लिया वो मुकाम जहां पहुंचने वाले वो सबसे तेज भारतीय गेंदबाज हैं. Also Read - ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में कोच शास्त्री की सलाह इस्तेमाल करने को तैयार हैं सिराज

शमी ने जैसे ही कीवी टीम का पहला विकेट गिराया यानी मार्टिन गुप्टिल को चलता किया उन्होंने वनडे क्रिकेट में अपने 100 विकेट भी पूरे कर लिए. सिर्फ 56वें मैच में 100 वनडे विकेट का सफर पूरा करने वाले शमी सबसे तेज भारतीय गेंदबाज हैं. इस मामले में उन्होंने इरफान पठान के 59 वनडे का रिकॉर्ड तोड़ा है.

46 महीने लगे सिर्फ 13 विकेट के लिए

शमी ने अपने वनडे के 87 विकेट मार्च 2015 तक खेले मुकाबले में ही ले लिए थे. लेकिन उसके बाद बाकी बचे 13 विकेट लेने के लिए उन्हें 46 महीनों का लंबा इंतजार करना पड़ा. बहरहाल, 100 विकेट लेने के बाद शमी ने अपने कदम अब 200 की ओर बढ़ा दिए हैं, जहां मुनरो को उन्होंने अपना 101वां शिकार बनाया है.