बांग्‍लादेश की टीम गुरुवार का भारत के खिलाफ इंदौर में दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज का पहला मुकाबला खेलेगी. शाकिब अल हसन की गैर मौजूदगी में टीम की कमान मोमिनुल हक के हाथों में रहेगी. मोमिनुल हक ने साफ किया कि शाकिब हल हसन जैसा ऑलराउंडर हमारे लिए दो खिलाड़ियों के बराबर हैं।Also Read - ON This Day: Virat Kohli ने दो साल पहले आज ही के दिन लगाया था आखिरी अंतरराष्‍ट्रीय शतक, मौका था बेहद खास

Also Read - T20 विश्व कप के बाद पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज से बाहर हुए चोटिल शाकिब अल हसन

पढ़ें:- अंबाती रायडू की होगी चेन्‍नई की टीम से छुट्टी, इन खिलाड़ियों का जाना भी तय Also Read - T20 World Cup 2021: Shakib Al Hasan वर्ल्ड कप से बाहर, बांग्लादेश को झटका

कप्‍तान ने कहा, शाकिब अल हसन अपने आप में दो खिलाड़ियों की भूमिका निभाते थे। बल्‍लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभाग में उनकी भूमिका अहम होती थी। साथ ही हमारे पास इस सीरीज में तमीम इकबाल भी नहीं होंगे। ऐसे में हमें तीन खिलाड़ियों की कमी खलने वाली है।

शाकिब अल हसन पर बुकीज द्वारा संपर्क करने के बावजूद इसकी जानकारी आईसीसी को नहीं देने के कारण दो साल का प्रतिबंध लगाया गया है. जिसके बाद टीम की कमान मोमिनुल हक को सौंपी गई.

नए कप्‍तान ने कहा, ‘‘मैं सिर्फ कप्तान नियुक्त किये जाने से दबाव महसूस नहीं कर रहा हूं. कप्तानी से पहले मैं जिस तरह बल्लेबाजी करता था, उसी तरह से अब भी बल्लेबाजी करता रहूंगा.’’

मुमिनुल ने 36 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें आठ शतक उनके नाम हैं. उन्‍होंने कहा, ‘‘मैं हमेशा सकारात्मक पहलुओं के बारे में सोचने की कोशिश करता हूं. कप्तान होने में भी कुछ सकारात्मक चीजे हैं. आपकी खेल की जानकारी बढ़ती है. आप बतौर खिलाड़ी भी ज्यादा जिम्मेदार हो जाते हो. इसलिये मुझे लगता है कि इससे मुझे अपने प्रदर्शन को सुधारने में मदद मिलेगी.’’

पढ़ें:- विराट के मन में पिंक गेंद को लेकर अब भी अटका है एक सवाल, बोले- यह देखना होगा कि…

मोमिनुल को लगता है कि उनकी टीम से उम्मीदें इतनी ज्यादा नहीं हैं तो दबाव भी थोड़ा कम होगा. भारत की मजबूत तेज गेंदबाजी के बारे में पूछने पर मोमिनुल ने कहा, ‘‘विरोधी टीम ऐसी है कि वह विभिन्न तरह के प्रतिद्वंद्वियों को अलग तरह से चुनौती दे सकती है.’’

‘शायद वे हमें अपने स्पिन आक्रमण से चुनौती देंगे. हम भारत के स्पिन और तेज गेंदबाजी दोनों आक्रमण का सामना करने के लिये तैयार हैं. निश्चित रूप से, यह हमारे लिये कठिन होगा. लेकिन हम इसका सामना करने के लिये तैयारी कर रहे हैं.’’