नई दिल्ली: बांग्लादेशी क्रिकेटर मोसादिक हुसैन सैकत की पत्नी ने बल्लेबाज पर घर से निकालने और दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. सोमवार को मीडिया में चल रही खबरों में यह दावा किया गया. मोसादिक ने छह साल पहले अपनी रिश्ते की बहन शरमीन समीरा उषा से शादी की थी. 22 साल के इस क्रिकेटर को यूएई में 13 से 28 सितंबर तक होने वाले 50 ओवर के एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए बांग्लादेश की टीम में शामिल किया गया है.Also Read - सरकारी नौकरी पानी है तो करने होंगे 'दहेज विरोधी' हलफनामे पर हस्ताक्षर, दहेज प्रथा को रोकने के लिए नई पहल

Also Read - BAN vs PAK: पाक टीम ने प्रैक्टिस सेशन में की ऐसी हरकत, बांग्‍लादेशी फैन्‍स वापस जाने की करने लगे डिमांड

बीडीन्यूज24.काम के अनुसार अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट रोसीना खान ने कल इस क्रिकेटर के खिलाफ उषा क आरोपों को स्वीकार किया और सदर उप जिला कार्यकारी अधिकारी को इस मामले की जांच करने को कहा. Also Read - एक्‍ट्रेस ने पति पर दर्ज कराया रेप का केस, शादी से पहले लॉकडाउन के दौरान घर में आकर जबरन संबंध बनाए थे

टीम इंडिया के सबसे फिट खिलाड़ी ने जड़ा नाबाद शतक, ऑस्ट्रेलिया ए को दिया 277 रन का लक्ष्य

उषा के वकील रेजाउल करीम दुलाल ने आरोप लगाया कि मोसादिक लंबे समय से अपनी पत्नी को प्रताड़ित कर रहा था. उन्होंने दावा किया, ‘‘उसने (मोसादिक) 10 लाख टका (12,003 डालर) के दहेज के लिए उसे प्रताड़ित किया और 15 अगस्त को घर से बाहर निकाल दिया.’’ खबर के अनुसार इस मामले में क्रिकेटर की प्रतिक्रिया नहीं ला जा सकी है. मोसादिक के भाई मोसाबिर हुसैन मून ने कहा, ‘‘शादी के बाद से ही उनके बीच मतभेद थे.’’

एशियाई खेल 2018: भारतीय महिला हॉकी टीम ने थाईलैंड को हराया, 5-0 से हासिल की जीत

मोसाबिर ने दावा किया कि मोसादिक ने 15 अगस्त को तलाकनामा भेजा था लेकिन उसने शादी के दस्तावेजों में लिखे पैसे से अधिक पैसा मांगा. मोसाबिर ने आरोप लगाया कि उषा ने यह गलत और झूठी सूचना फैलाई की उसे पैसा नहीं मिला और उसने मामला दर्ज करा दिया.