लीड्स: महेन्द्र सिंह धोनी के शानदार करियर की प्रशंसा करते हुए आईसीसी ने इस पूर्व कप्तान की उपलब्धियों को साझा करके उन्हें ‘भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदलने वाला’ करार किया. रविवार को अपना 38वां जन्मदिन मनाने वाले धोनी क्रिकेट के तीनों वैश्विक खिताब जीतने वाले इकलौते कप्तान है. उनकी कप्तानी में भारत ने 2007 में टी20 विश्व कप, 2011 में एकदिवसीय विश्व कप और 2013 में चैम्पियन्स ट्राफी का खिताब जीता था.

 

आईसीसी ने भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए एक वीडियो साझा किया है. वीडियो के साथ ट्विटर पर आईसीसी ने लिखा कि एक ऐसा नाम जिसने भारतीय क्रिकेट के चेहरे को बदल दिया. ऐसा नाम जो दुनियाभर के लाखों लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है. ऐसा नाम जो विवादों से परे रहा है, महेन्द्र सिंह धोनी सिर्फ नाम नहीं है. इस वीडियो में भारतीय कप्तान विराट कोहली, तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, इंग्लैंड के विकेटकीपर जोस बटलर, हरफनमौला बेन स्टोक्स और अफगानिस्तान के विकेटकीपर मोहम्मद शहजाद का धोनी को लेकर बयान है.

ICC World Cup 2019: धोनी के रिटायरमेंट के सवाल पर बोले लसिथ मलिंगा- उनको एक या दो साल और खेलना चाहिए

कोहली ने कहा कि आप बाहर से जो देखते हैं, वह इस बात से बहुत अलग है कि वह व्यक्ति कैसा है. वह हमेशा से शांत और एकाग्र रहे है, उनसे काफी कुछ सिखा जा सकता है. वह मेरे कप्तान थे और हमेशा रहेंगे. एक-दूसरे को लेकर हमारी समझ कमाल की है. मुझे उनके सुझाव का हमेशा से इंतजार रहता है. बुमाराह ने कहा कि 2016 में जब मैं टीम में आया था तब वह कप्तान थे. वह टीम को शांत रखते है और मदद के लिये हमेशा तैयार रहते है. आईपीएल में पुणे सुरपजाइंट्स की ओर से खेलते हुए धोनी के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने वाले स्टोक्स ने उनकी तारीफ करते हुए कहा धोनी की तरह बेहतर कोई नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि वह इस खेल के महान खिलाड़ियों में से एक है, शानदार विकेटकीपर है. मुझे नहीं लगता है कोई उनकी तरह बेहतर नहीं हो सकता है.

महेंद्र सिंह धोनी का विदाई मैच हो सकता है भारत का विश्व कप में अंतिम मुकाबला

इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज बटलर ने भी धोनी की तारीफ करते हुए कहा कि वह मेरे आदर्श खिलाड़ी है. उन्होंने कहा कि जब मैं बड़ा हो रहा था तब वह मेरे आदर्श थे. मुझे मैदान में ‘मिस्टर कूल’ का अंदाज पसंद है, विकेट के पीछे भी वह बिजली की तरह फुर्तीले है. जब वह बल्लेबाजी करते है तब काफी शांत रहते हैं. वह खेल के लिए बहुत बड़े राजदूत हैं और मैं एमएस धोनी का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं.

India vs Bangladesh: सचिन तेंदुलकर बोले- धोनी ने वही किया जो टीम के लिए सही था