नई दिल्ली : आईपीएल के 12वें सीजन के फाइनल में मुम्बई इंडियंस के हाथों मिली एक रन के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि दोनों टीमों ने कई गलतियां कीं और एक समय दोनों एक दूसरे को ट्रॉफी की ‘पासिंग’ कर रही थीं. चेन्नई की टीम 150 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए एक रन पीछे रह गई. इस तरह मुम्बई ने चौथी बार यह खिताब अपने नाम किया जबकि चेन्नई का चौथी बार खिताब जीतने का सपना पूरा नहीं हो सका. इस सीजन में चेन्नई और मुम्बई के बीच यह चौथा मुकाबला था, जिसमें हर बार मुम्बई की जीत हुई.Also Read - IND vs NZ, 2nd Test: Ajinkya Rahane के पास 'गोल्डन चांस', मुंबई टेस्ट में MS Dhoni को पछाड़ने का मौका

राजीव गांधी स्टेडियम में हुए इस मैच के बाद धोनी ने कहा, “एक टीम के तौर पर हमारे लिए यह काफी अच्छा सीजन रहा. हमें यह सोचना होगा कि हम फाइनल में किस तरह पहुंचे और फाइनल में किस तरह खेले. हमारे लिए मध्यक्रम एक बार भी नहीं चमका लेकिन फिर भी हम फाइनल में पहुंचने में सफल रहे.” Also Read - …बड़े दिल वाले हैं MSD, इरफान पठान बोले-अपनी इगो एक तरफ छोड़कर जडेजा को बनाया सबसे महंगा खिलाड़ी

VIDEO: जीवा की हिंदी क्लास में बैठे ऋषभ पंत, गलती करने पर मिला ऐसा रिएक्शन Also Read - IPL 2022 Retention List: MS Dhoni से ज्यादा 'जूनियर' को मिलेंगे पैसे, जानिए कौन हैं सबसे महंगे कप्तान?

धोनी ने कहा कि यह देखना काफी रोचक रहा कि फाइनल में दोनों टीमों ने किस तरह से कई गलतियां कीं और एक दूसरे को ट्रॉफी पास करती रहीं. धोनी ने कहा, “हम एक दूसरे को ट्रॉफी पास कर रहे थे. हमने कई गलतियां कीं. मुम्बई की टीम ने भी ऐसा ही किया. अब गलतियों की दौड़ में जीत उसी की हुई, जिसने एक गलती कम की.”

महेंद्र सिंह धोनी के नाम नया कीर्तिमान, बने IPL इतिहास के सबसे सफल विकेटकीपर

धोनी ने कहा कि फाइनल मुकाबला शानदार रहा. बकौल चेन्नई कप्तान, “यह काफी अच्छा फाइनल रहा. काफी करीबी था. अंतिम गेंद पर फैसला हुआ. इससे बेहतर और क्या हो सकता था. इसके बावजूद हमें यह देखना होगा कि हमें सुधार की कहां जरूरत है.”