भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व स्पिन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की जमकर तारीफ की है. ओझा ने कहा है कि धोनी गेंदबाजों की काफी मदद करते हैं और वह गेंदबाजों के कप्तान हैं. ओझा ने पिछले सप्ताह इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था. Also Read - भारतीय टीम को बड़ी राहत, WTC फाइनल से पहले क्वारंटीन के दौरान प्रैक्टिस की इजाजत

विदेशी लीग में खेलना चाहते हैं पूर्व स्पिनर प्रज्ञान ओझा, गेंद अब BCCI के पाले में Also Read - भारत-न्यूजीलैंड के बीच होने वाला WTC फाइनल मैच देखने इंग्लैंड जाएंगे BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली

बाएं हाथ के इस पूर्व स्पिनर ने अधिकतर इंटरनेशनल क्रिकेट करिश्माई कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के नेतृत्व में खेला है. उन्होंने धोनी को गेंदबाजों का कप्तान करार दिया. Also Read - Veda Krishnamurthy पर टूटा दुखों का पहाड़, मां के बाद कोरोना ने छीनी अब बहन की जिंदगी

बकौल ओझा, ‘वह (धोनी) गेंदबाजों के कप्तान है. मैं पूरी तरह से मानता हूं कि गेंदबाज के पास ऐसा कप्तान होना चाहिए जो उसे समझता है. बहुत से गेंदबाज धोनी की तारीफ करते हैं क्योंकि वे आपको जो आयाम देते हैं वह आपकी काफी मदद करता है.’

ओझा को उनकी गेंदबाजी एक्शन संदिग्ध पाए जाने की वजह से उनपर गेंदबाजी करने से बैन कर दिया गया था. शुरुआती दिनों में ओझा और आर अश्विन की जोड़ी बेहतरीन थी. विंडीज के खिलाफ 2011 की घरेलू टेस्ट सीरीज में दोनों ने विपक्षी टीम के कुल 20 विकेट चटकाए थे. उसी वर्ष न्यूजीलैंड के खिलाफ दोनों ने 11 विकेट भी अपने नाम किए थे.

‘देखना चाहता हूं कि सचिन तेंदुलकर के रनों के पहाड़ को कौन पार करेगा’

प्रज्ञान ने भारत की ओर से 24 टेस्ट मैचों में 113 विकेट चटककाए जबकि 18 वनडे इंटरनेशनल मैचों में उनके नाम 21 विकेट दर्ज हैं. उन्होंने टीम इंडिया की ओर से 6 टी20 इंटरनेशनल मैचों में कुल 10 विकेट अपने नाम किए.