पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) का कहना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लगातार तीन मैचों में पांच गेंदबाजों को खिलाने के पीछे कारण है- कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का अपनी फॉर्म को लेकर अश्चित होना।Also Read - Ranveer Singh ने यूं बरसाया MS Dhoni पर प्यार, साथ खेलने पहुंचे फुटबॉल मैच, माही का लुक हो गया वायरल- VIDEO

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रन से मिली हार के बाद चोपड़ा ने कहा कि पांच गेंदबाज खिलाने की वजह से धोनी को मैच में ज्यादा विकल्प नहीं मिलते हैं। साथ ही शीर्ष क्रम को अच्छी शुरुआत ना मिलना भी चेन्नई के लिए परेशानी की वजह है। Also Read - बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह के साथ फुटबॉल खेलते दिखे MS Dhoni, देखें तस्वीर

अपने यू-ट्यूब शो में चोपड़ा ने कहा, “मेरी यादाश्त में कप्तान धोनी पहली बार पांच गेंदबाजों के साथ खेल रहे हैं। उसे पांच गेंदबाजों के साथ खेलना पसंद नहीं है लेकिन ये समय ऐसा है। वो अपनी बल्लेबाजी को लेकर पूरी तरह आश्वस्त नहीं है।” Also Read - ZIM vs BAN: Video- जिम्बाब्वे के विकेटकीपर ने दिलाई MS Dhoni की याद, यूं किया ब्लाइंड रन आउट

चोपड़ा ने कहा, “रायुडू की गैरमौजूदगी भी बड़ी समस्या है। वो अपनी बल्लेबाजी फॉर्म को लेकर 100 प्रतिशत निश्चित नहीं है। रुतुराज गायकवाड़ के आने से और मुरली विजय के रन ना बना पाने से वो 6 गेंदबाजों के साथ खेलने को लेकर आश्वस्त नहीं है।”

पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “अगर आप इस सीजन जडेजा को देखें, उसने तीनों मैचों में 4 ओवर कराए हैं और हर बार 40 से ज्यादा रन दिए हैं। अगर वो इतने रन देगा तो आपके पास बचने का कोई रास्ता नहीं है। कोई और गेंदबाजी नहीं कर रहा है, उनकी टीम में केवल पांच गेंदबाज हैं। ये धोनी की नीति नहीं है लेकिन यही हो रहा है।”

धोनी ने आईपीएल 2020 में अब तक खेले तीन मैचों में 44 की औसत और 141.94 की स्ट्राइक रेट से 44 रन बनाए हैं।