नई दिल्ली. वर्ल्ड क्रिकेट में धोनी जिन खास रिकॉर्ड के करीब हैं, लगता है उसकी स्क्रिप्ट अब क्रिकेट के मक्का यानी कि लॉर्ड्स में ही लिखी जाएगी. इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज का आगाज होने से पहले से ही धोनी के ये रिकॉर्ड चर्चा में हैं. नॉटिंघम में तो इन्हें पूरा करने का उन्हें मौका मिला नहीं, अब इंतजार लॉर्ड्स का है.Also Read - टी20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ खुद का बोझ कम करना चाहता हैं विराट कोहली: एमएसके प्रसाद

Also Read - IPL 2021- एक और खिताब जीतने के करीब है MS Dhoni की Chennai Super Kings: Kevin Pietersen

लॉर्ड्स में धोनी बनेंगे 10 हजारी! Also Read - MS Dhoni की सलाह ने मेरी बैटिंग को बदल दिया, फिर मैंने और मेहनत की: Shardul Thakur

लॉर्ड्स के मैदान पर धोनी जो सबसे पहला रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं वो है वनडे क्रिकेट में 10 हजारी बनने का. महेंद्र सिंह धोनी ने 319 वनडे मैचों में 51.37 के औसत से 9967 रन बनाए हैं, जिसमें 10 शतक भी शामिल हैं. यानी, धोनी को 10,000 के स्‍पेशल क्‍लब में शामिल होने के लिए सिर्फ 33 रन की जरुरत है. अगर धोनी क्रिकेट के मक्का लॉर्ड्स पर इस मुकाम को हासिल करते हैं तो वो इस आंकड़े को छूने वाले फिलहाल वर्ल्ड क्रिकेट में इकलौते सक्रिय क्रिकेटर होंगे. इसके अलावा धोनी 10000 वनडे रन के आंकड़े को छूने वाले सचिन, द्रविड़ और गांगुली के बाद चौथे भारतीय क्रिकेटर होंगे. वहीं दुनिया में उनका स्थान इस मामले में 12वां होगा.

कीपिंग में 300 शिकार करेंगे ‘कैच’

क्रिकेट के मक्का पर दूसरा बड़ा रिकॉर्ड धोनी विकेट के पीछे 300 शिकार लपकने का कर सकते हैं, जिससे वो अपने वनडे करियर में अब बस 2 कदम दूर हैं. धोनी ने 319 वनडे मुकाबलों में अब तक 298 कैच लपके हैं. टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्‍लेबाज़ धोनी से सिर्फ एडम गिलक्रिस्ट (417), मार्क बाउचर (402) और कुमार संगाकारा (383) ही आगे हैं. जबकि धोनी सबसे ज्यादा 107 स्टंप करने का रिकॉर्ड पहले ही बना चुके हैं.

भारत के प्लेइंग XI में होने वाला एक बदलाव, लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ करेगा सीरीज सील!

रनों के भारतीय बादशाह बनने का मौका

लॉर्ड्स में धोनी को अगर लंबी पारी खेलने का मौका मिलता है तो एक और रिकॉर्ड पर अपना नाम लिख सकते हैं. वो युवराज सिंह और सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ते हुए इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन सकते हैं. धोनी ने इंग्लैंड के खिलाफ अब तक 45 मैचों में 45.96 के औसत से 1425 रन बनाए हैं. जबकि युवराज के 1523 रन और सचिन के 1455 रन हैं. धोनी इस तरह सचिन से 30 रन तो युवी से 98 रन पीछे हैं. लिहाजा, इंग्‍लैंड के खिलाफ रनों का भारतीय बादशाह बनने के लिए धोनी को बस लॉर्ड्स में अपने वनडे करियर के 11 वें शतक की दरकार है.