नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा का कहना है कि कप्तान और सीनियर के रूप में महेंद्र सिंह धोनी ने उनके पूरे करियर के दौरान काफी मदद की है. कभी महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेलने वाले ईशांत अब विराट कोहली की कप्तानी में टेस्ट टीम का हिस्सा हैं. ईशांत इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण में दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलेंगे.

ईशांत ने कहा, “माही (धोनी) भाई ने कई बार मुश्किल समय में मेरी मदद की है. अब टीम में सीनियर होने के नाते विराट मेरे पास आते हैं और कहते हैं, ‘मुझे पता है कि आप थके हुए हैं, लेकिन एक सीनियर होने के नाते आप को टीम के लिए ऐसा (गेंदबाजी) करना होगा.”

वर्ल्ड कप 2019 में धोनी का विकल्प होगा ये खिलाड़ी, पॉन्टिंग ने किया दावा

तेज गेंदबाज ने कहा, “पहले मैं सिर्फ अच्छी गेंदबाजी करना चाहता था लेकिन अब मैं अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं और विकेट लेना चाहता हूं. आप विकेट लेकर ही लोगों की सोच (धारणा) को बदल सकते हैं, इसलिए अब मेरे लिए विकेट लेना ज्यादा महत्वपूर्ण हो गया है.”

1 साल 4 दिन के इंतजार के बाद सचिन ने किया था असंभव को संभव

2013 के चैम्पियंस ट्रॉफी में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले ईशांत अब लोगों की नजर में एक अच्छे टेस्ट गेंदबाज बन गए हैं. उनका मानना है कि इन दिनों खिलाड़ियों के लिए लोगों की धारणा महत्वपूर्ण हो गया है. ईशांत ने कहा, “हां, मौजूदा समय में धारणा एक बड़ी चीज हो गई है, जिससे खिलाड़ियों को निपटना पड़ रहा है. मुझे नहीं पता कि यह कहां से आता है. मैं इन सब चीजों के बारे में ज्यादा नहीं सोचता. मैं हमेशा सकारात्मक रहता हूं और अपने खेल पर ही ध्यान केंद्रित करता हूं. “