नई दिल्ली : टीम इंडिया के दिग्गज खिलाड़ी महेन्द्र सिंह धोनी को भले ही ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम में शामिल न किया गया, लेकिन उनके प्रदर्शन पर इसका अब तक कोई असर नहीं पड़ा है. धोनी अब भी विकेट के पीछे उतने ही तेज हैं जितना कि पहले हुआ करते थे. उन्होंने भारत और वेस्टइंडीज के बीच पुणे में खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में इस बात का सबूत दिया. धोनी ने वेस्टइंडीज की पारी के 30 ओवर तक 2 बेहतरीन कैच और 1 स्टंप आउट कर भारत को सफलता दिलायी.

दरअसल महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेले जा रहे इस मुकाबले में वेस्टइंडीज की टीम टॉस हारकर पहले बैटिंग के लिए आयी. इस दौरान काफी खराब शुरुआत रही. टीम ने पहला विकेट 25 रन के स्कोर पर गंवाया. यह विकेट जसप्रीत बुमराह ने भारत को दिलाया. जब कि धोनी ने विकेट के पीछे भागकर मुश्किल कैच पकड़ा. इसके बाद दूसरा विकेट 38 रन पर और तीसरा विकेट 55 रन पर गिरा. 55 रन के स्कोर पर सैमुअल आउट हुए. उनका कैच धोनी ने पकड़ा. इसके बाद 111 रन पर हेटमायर आउट हुए.

VIDEO: धोनी ने पुणे वनडे में पकड़ा बेहद मुश्किल कैच, फैन्स ने जमकर की तारीफ

हेटमायर ने शाई होप के साथ अर्धशतकीय साझेदारी बना ली थी. इस समय तक वेस्टइंडीज का स्कोर 111 रन हो गया था. लेकिन धोनी की खतरनाक स्टंपिंग की वजह से यह साझेदारी टूट गई और वेस्टइंडीज को बड़ा झटका लगा. भारत की ओर से 20वां ओवर कुलदीप यादव कर रहे थे. उनके इस ओवर की तीसरी गेंद हेटमायर समझ नहीं पाए और शॉट खेलने के लिए घुटने पर झुके. तभी धोनी ने फुर्ती दिखाते हुए आउट कर दिया. अंपायर के लिए यह फैसला लेना थोड़ा मुश्किल था. इसलिए थर्ड अंपायर की मदद से हेटमायर को आउट दिया गया.

देखें वीडियो :

धोनी को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर न ले जाने की बड़ी वजह का खुलासा!

बता दें कि भारत और वेस्टइंडीज के बीच पुणे में वनडे सीरीज का तीसरा मैच खेला जा रहा है. इसमें वेस्टइंडीज की टीम टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी. इस दौरान टीम की काफी खराब शुरुआत रही. इसमें 34 ओवर तक धोनी ने शानदार विकेटकीपिंग करते हुए 2 कैच और 1 स्टंप आउट किया. जब कि भारतीय गेंदबाज भी लय में दिखे. जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव, खलील अहमद और भुवनेश्वर कुमार ने अच्छी गेंदबाजी की.