कैप्‍टन कूल के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को आखिरी बार गुस्‍सा कब आया था ? कुलदीप यादव की माने तो धोनी को 20 साल से भी अधिक समय से गुस्‍सा नहीं आया है. कलाई के स्पिनर का कहना है कि धोनी ने उन्‍हें खुद बताया है कि वो बहुत पहले ही गुस्‍सा करना छोड़ चुके हैं. Also Read - IPL 2020: घुटने के बल बैठ हार्दिक पांड्या ने 'Black Lives Matter' का किया समर्थन

इंस्‍टाग्राम चैट के दौरान कुलदीप यादव ने 2017 में इंदौर में श्रीलंका के खिलाफ खेले गए टी-20 मैच का एक उदाहरण दिया. कुलदीप ने कहा, “कुसल परेरा ने कवर्स के ऊपर से बाउंड्री मार दी थी. धोनी भाई ने मुझसे चिल्लाकर फील्डिंग बदलने को कहा. मैंने उनकी सलाह नहीं मानी. अगली गेंद पर कुसल ने एक रिवर्स स्वीप खेल बाउंड्री लगा दी.” Also Read - IPL के इकलौते खिलाड़ी बने बेन स्टोक्स, जिसने बनाया ऐसा रिकॉर्ड कि...

कुलदीप यादव ने आगे बताया, “अब गुस्से से भरे धोनी मेरे पास आए और कहा.. मैं पागल हूं, 300 वनडे खेले हैं इंडिया के लिए और समझा रहा हूं यहां पर.” Also Read - IPL 2020: विराट कोहली बोले-इतनी लंबी लीग में कभी तो हार का सामना करना ही होगा

कुलदीप ने कहा कि मैच के बाद जब उन्होंने धोनी से पूछा कि क्यों वो आक्रोशित थे तो धोनी ने मना कर दिया और कहा कि वो सिर्फ मुझे डांट रहे थे जिससे बेहतर प्रदर्शन कर सकें.

“मैं उस दिन काफी डरा हुआ था. मैच के बाद टीम बस में सफर करते वक्त मैं उनके पास गया और कहा कि आप कभी गुस्सा होते हो तो धोनी (MS Dhoni) भाई ने कहा कि 20 साल से गुस्सा नहीं किया.”

बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) विश्‍व कप 2019 के बाद से ही अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं. आईपीएल 2020 से उनके प्रतिस्‍पर्धी क्रिकेट में वापसी की उम्‍मीद थी. अब आईपीएल के अनिश्चित काल के लिए रद्द होने के बाद धोनी का भविष्‍य भी अधर में लटका हुआ नजर आ रहा है. कई क्रिकेट एक्‍सपर्ट अब धोनी के अंतरराष्‍ट्रीय करियर खत्‍म होने की भविष्‍यवाणी भी कर चुके हैं.