नई दिल्ली : भारत को 30 मई से इंग्लैंड में शुरू हो रहे विश्व कप के प्रबल दावेदारों में गिनते हुए पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जहीर अब्बास ने कहा कि दो विश्व कप जिता चुके महेंद्र सिंह धोनी का ‘क्रिकेटिया दिमाग’ टीम इंडिया के लिये ट्रंपकार्ड साबित हो सकता है. भारत को टी-20 (2007) और पचास ओवरों का विश्व कप (2011) दिला चुके धोनी का यह आखिरी विश्व कप है जबकि बतौर कप्तान विराट कोहली पहली बार विश्व कप में भारत की कप्तानी करेंगे.

अब्बास ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘‘भारत के पास धोनी जैसा जीनियस है जो असल में टीम का दिमाग है. वह क्रिकेट को इतना अच्छा समझता है कि कप्तान और कोच को उसके अनुभव का फायदा जरूर मिलेगा. उसके पास दो विश्व कप जीतने का अनुभव भी है लिहाजा वह टीम का ट्रंपकार्ड साबित हो सकता है.’’

उन्होंने कहा कि बल्लेबाजों की ऐशगाह इंग्लैंड की पिचें भारत को रास आयेंगी क्योंकि उसके पास मजबूत बल्लेबाजी क्रम है. अपने दौर में एशियाई ब्रैडमेन के नाम से मशहूर रहे अब्बास ने कहा ,‘‘ हाल ही में पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच वनडे सीरीज में वहां 350 रन भी बने हैं यानी पिचें बल्लेबाजों की मददगार है और विकेटों पर बिल्कुल घास नहीं है. ऐसे में गेंदबाजों को मदद मिलने की उम्मीद कम ही है और भारतीय बल्लेबाज इसका पूरा फायदा उठा सकते हैं.’’

बुमराह की बॉलिंग का फैन हुआ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी, कहा- विरोधी टीमों को कर देंगे तहस-नहस

भारत के लिये चौथे नंबर का बल्लेबाजी क्रम दुविधा बना हुआ है लेकिन पाकिस्तान के लिये 78 टेस्ट और 62 वनडे खेल चुके अब्बास शीर्षक्रम में ज्यादा बदलाव के हिमायती नहीं हैं. उन्होंने कहा, ‘‘बल्लेबाजी क्रम तो कप्तान की पसंद है लेकिन मेरा मानना है कि शीर्ष चार बल्लेबाजों का क्रम स्थिर होना चाहिये. इसके बाद निचले क्रम में बदलाव किये जा सकते हैं लेकिन ऊपर नहीं.’’

भारत के अलावा उन्होंने पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड को भी विश्व कप के दावेदारों में बताया. उन्होंने कहा, ”इस विश्व कप का प्रारूप ऐसा है कि फिटनेस सफलता की कुंजी होगी. वहां के मौसम और हालात को देखते हुए सबसे फिट टीमें ही अंतिम चार में रहेंगी.” पाकिस्तानी टीम के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘पाकिस्तान के लिये सबसे बढ़िया टीम संयोजन यही हो सकता था. अब पाकिस्तान को इंग्लैंड से मिली हार को भुलाकर विश्व कप पर फोकस करना होगा और उसे अपनी फील्डिंग में सुधार करना पड़ेगा.’’

मोईन अली ने दिल जीत दिल, स्मिथ-वॉर्नर के लिए फैन्स से की खास रिक्वेस्ट

पाकिस्तान अभी तक विश्व कप में भारत से एक भी मैच नहीं जीत सका है. यह पूछने पर कि क्या इस बार यह स्थिति बदलेगी, अब्बास ने कहा कि यह तो मैच के दिन का दबाव झेलने पर निर्भर होगा लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि यह टूर्नामेंट का सबसे शानदार मैच होगा. भारत और पाकिस्तान का मुकाबला 16 जून को मैनचेस्टर में होगा. अब्बास ने कहा, ‘‘भारत का रिकार्ड बेहतर रहा है लेकिन पाकिस्तान अपना दिन होने पर किसी को भी हरा सकता है. यह टूर्नामेंट का सबसे रोचक मैच होगा और मेरी नजर में भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट के मैदान पर प्रतिद्वंद्विता एशेज से भी बड़ी है.’’